संजीवनी टुडे

पुलिस महानिदेशक ने अफवाहों को रोकने के लिए सभी जिला अधीक्षकों से की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग

संजीवनी टुडे 23-02-2019 22:54:08


कोलकाता।  कोलकाता समेत राज्य भर में अफवाहों का बाजार गर्म है। कहीं बच्चों को चुराने वाले को लेकर तो कहें सांप्रदायिक दंगे के बारे में। इसे लेकर तेजी से सोशल साइट और जमीनी स्तर पर भी अफवाहें फैलाई जा रही हैं। अब इस पर हर हाल में लगाम लगाने के लिए राज्य सरकार ने कमर कस ली है। शनिवार को राज्य के पुलिस महानिदेशक वीरेंद्र कुमार ने राज्य के सभी 24 जिलों के पुलिस अधीक्षकों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की है। 


राज्य सचिवालय सूत्रों के हवाले से बताया गया कि सचिवालय के गृह विभाग में नवगठित सोशल मीडिया निगरानी सेल के दफ्तर में बैठकर वीरेंद्र कुमार ने हावड़ा, हुगली, उत्तर और दक्षिण 24 परगना, पूर्व और पश्चिम मेदिनीपुर, बर्दवान, पुरुलिया, बांकुड़ा, अलीपुरद्वार, सिलीगुड़ी, जलपाईगुड़ी समेत सभी 24 जिलों के पुलिस अधीक्षकों अथवा पुलिस आयुक्तों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत की है। उन्होंने स्पष्ट निर्देश दिया है कि राज्य भर में तेजी से फैल रही अफवाहों पर हर हाल में लगाम लगानी होगीी। ऐसा करने वालों की गिरफ्तारी और उनके खिलाफ ठोस कानूनी कार्रवाई, ऐसा करने वालों के बीच ठोस संदेश भेजने वाला होगा। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

पुलिस महानिदेशक ने स्पष्ट किया है कि सोशल साइट समेत जमीनी स्तर पर किसी भी तरह से अफवाह या हिंसा फैलाने वालों को बख्शा नहीं जाए। सचिवालय में स्थापित निगरानी सेल के साथ सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक और जिला प्रशासन को समन्वय बनाने का निर्देश उन्होंने दिया है। इसके साथ ही उन्होंने स्पष्ट किया है कि किसी भी तरह से किसी भी व्यक्ति को परेशान नहीं किया जाए अथवा भेदभाव का शिकार नहीं होना पड़े, इसका विशेष तौर पर ध्यान रखना होगा। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

उल्लेखनीय है कि कोलकाता समेत राज्य भर में बच्चा चोरी के संदेह में 15 से अधिक लोगों को मारा-पीटा गया है। इनमें से कोलकाता में एक युवक की मौत शनिवार तड़के हो गई है। इसके अलावा पुलवामा हमले के बाद कथित तौर पर राज्य भर में कश्मीरियों को भी धमकियां दी जा रही हैं। साथ ही पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध नहीं करने की मांग करने वालों को भी धमकियां दिए जाने की शिकायतें मिल रही हैं। एक लड़की को भी सोशल साइट पर कश्मीरियों के पक्ष में लिखने के बाद दुष्कर्म करने की चेतावनी दी गई थी। इन तमाम घटनाओं के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ऐसी घटनाओं को अंजाम देने वालों के खिलाफ सख्ती से निपटने का निर्देश दिया था। अब राज्य प्रशासन अफवाहों पर लगाम लगाने और इस तरह की घटनाओं को अंजाम देने में जुटे लोगों की धर-पकड़ में जुट गया है।

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended