संजीवनी टुडे

नए युवा मतदाताओं को साधने, मुख्यमंत्री भूपेश की भावुक रणनीति

संजीवनी टुडे 04-03-2019 21:52:50


रायपुर। छत्तीसगढ़ के युवाओं के नाम मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सोशल मीडिया में सोमवार को एक खुला पत्र जारी किया है। इस पत्र में उन्होंने अपने को परिश्रमी बताते हुए साधारण किसान परिवार का सदस्य बताया है। समझा जाता है कि लोकसभा चुनाव के मद्देनजर नए युवा मतदाताओं को साधने के लिए भूपेश ने यह भावुक पत्र सोशल मीडिया में जारी किया है। इसे भूपेश की चुनावी रणनीति का हिस्सा समझा जा रहा है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा कि... छत्तीसगढ़ के युवा साथियों, आज आप सबसे अपनी दिल की बात साझा कर रहा हूं। छत्तीसगढ़ में कांग्रेस की सरकार बने लगभग 60 दिन से अधिक हो चुके हैं। इन 60 दिनों में मैंने अपना हर एक पल छत्तीसगढ़ की जनता के लिए उपलब्ध रहने और 'नवा छत्तीसगढ़' गढ़ने के संकल्प को पूरा करने की प्रक्रिया में समर्पित करने का प्रयास किया है। मैं भी आप सभी की तरह एक साधारण किसान परिवार से संबंध रखता हूं। एक किसान का बेटा होने के कारण मैंने भी युवा अवस्था में कई तरह की चुनौतियों का सामना किया है। कॉलेज में दाखिले से लेकर अच्छे अंक प्राप्त करने तक, किसी भी प्रतिस्पर्धा में शामिल होकर उसमें सफलता प्राप्ति के प्रयास तक एवं अध्ययन उपरांत अपनी रोजी-रोटी के लिए संघर्ष से लेकर, पारिवारिक जिम्मेदारी को सम्भालने तक, लगभग हर स्तर पर संघर्ष से मेरी मुलाकात होती रही है। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 260000/- में , 12 माह की आसान किस्तों में कॉल  9314166166

इसलिए आप सबके दर्द और संघर्ष को मैं बखूबी समझता हूं और मुझे ऐसा लगता है कि बदलते सामाजिक परिवेश के चलते आपका संघर्ष और समर्पण मेरी उस समय की परिस्थितियों की तुलना में और भी कठिन होगा। साथियों, हमारे महान छत्तीसगढ़ प्रदेश का जन्म वर्ष 2000 में हुआ। यह छत्तीसगढ़ महतारी का आशीर्वाद ही था जिसने कि नवजात शिशु रूपी प्रदेश को प्रारम्भिक तीन साल के लिए कांग्रेस पार्टी के द्वारा इसके पालन-पोषण की जिम्मेदारी को पूरा किया जाना आदेशित किया। उसके उपरांत लोकतांत्रिक प्रक्रिया के अनुरूप प्रदेश में 15 साल तक भाजपा की सरकार रही है। उनके कार्यकाल में जिस तरह से आप सबके अधिकारों का दोहन हुआ है, उससे न केवल मैं वाकिफ हूं, बल्कि आप सब भी भलीभांति जानते एवं समझते हैं।  वर्ष 2018 प्रदेश में बदलाव की एक नई उम्मीद लेकर आया। यह वो वक्त था जब हमारा नवजात शिशु रूपी प्रदेश 18 वर्ष की आयु को पूर्ण कर वयस्क अवस्था में आ रहा था। वयस्क होने के साथ साथ जिस प्रकार से हर मनुष्य की नई आशाएं, नये सपने, नई आकांक्षाएं होतीं हैं, ठीक उसी प्रकार से हमारे छत्तीसगढ़ प्रदेश को भी नये बदलाव की आवश्यकता थी। इस बार पुनः उसी लोकतांत्रिक प्रक्रिया ने वयस्क छत्तीसगढ़ की जिम्मेदारी कांग्रेस पार्टी के कन्धों पर दी। जनादेश इतना प्रचंड था कि मानों छत्तीसगढ़ महतारी का संदेश स्पष्ट हो कि इस नये छत्तीसगढ़ की आकांक्षाएं, आशाएं एवं सपने केवल कांग्रेस पार्टी ही पूरा कर सकती है। 

नवा छत्तीसगढ़ की नयी सरकार अपने प्रथम दिन से ही युवाओं के सशक्तिकरण हेतु गंभीरता से दिन-रात काम कर रही है। हम जल्द ही प्रोफेसर, चिकित्सक, शिक्षकों के खाली पदों पर भर्ती की प्रक्रिया शुरू करने जा रहे हैं। युवा खिलाड़ियों को भी उत्तम सुविधा उपलब्ध कराने हेतु हमने नई नीति पर काम करना शुरू किया है। छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग की प्रवेश परीक्षा में सुधार हेतु आपसे लिए गए सुझावों का हमने क्रियान्वयन प्रारम्भ कर दिया है। इतना ही नहीं देश एवं विश्व पटल पर हमारा नवां छत्तीसगढ़ चिकित्सा, कृषि एवं तकनीकी क्षेत्र में सफलता के नये आयाम स्थापित कर सकें, इसके लिए भी हमने प्रदेश में सॉफ्टवेयर पार्क, औषधि प्लांट एवं फूड पार्कों को स्थापित करने का निर्णय लिया है। मेरा आप सभी से वादा है कि देश एवं प्रदेश की अर्थव्यवस्था की प्रमुख नींव किसान एवं प्रकृति के रक्षक आदिवासियों की मजबूरी भरे जीवन को मजबूती भरे जीवन में बदलने की प्रक्रिया प्रारम्भ करने के बाद अब आगे का पूरा समय प्रदेश के युवाओं को सशक्त एवं सक्षम बनाने की दिशा में समर्पित होगा। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

जहां तक आदिवासियों के हक की लड़ाई लड़ते-लड़ते नक्सलियों की गोली से शहीद हुए महेन्द्र कर्मा के पुत्र आशीष कर्मा की बात है तो मैं आप सभी को यह बताता चलूं कि हमने किसी भी सामान्य युवा का अधिकार छीनकर उन्हें नहीं दिया है। शहीद पुत्र को अनुकंपा पर नौकरी देने का वादा भाजपा की सरकार ने ही किया था। हमने बस उसे पूरा किया है। इसके कारण छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग की आगामी प्रवेश परीक्षा में सीटों में कोई कटौती नहीं होने वाली है। मैं आप सबको विश्वास दिलाता हूं कि सरकार संविधान के अनुरूप सबको समान अधिकार देकर सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय की दिशा में कार्य करना जारी रखेगी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended