संजीवनी टुडे

ईवीएम में बंद उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला गुरुवार को

संजीवनी टुडे 22-05-2019 19:01:25


रेवाड़ी। ईवीएम में बंद उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला आज वीरवार को होगा। जिला प्रशासन ने ईवीएम में बंद मतों की गिनती कराने की पूरी तैयारी कर ली है। रोहतक लोकसभा क्षेत्र की कोसली विधानसभा की गिनती जैन वरिष्ठ माध्यमिक स्कूल तथा रेवाड़ी व कोसली विधानसभा क्षेत्र के मतों की गिनती राजकीय महिला कॉलेज में बनाए गए मतगणना केंद्र पर होगी। मतगणना का कार्य सुबह 8 बजे शुरू होगा। जिला पुलिस ने सुरक्षा की दृष्टि से कड़े इंतजाम किए हैं। मतगणना के लिए नियुक्त किए गए मतगणना सहायक, मतगणना सुपरवाईजर व मतगणना माईक्रो आर्ब्जवर की मतगणना ट्रेनिंग भी करा दी गई है। 23 मई को कराई जाने वाली मतों की गिनती को लेकर भारत चुनाव आयोग द्वारा नियुक्त किए गए गुड़गांव लोकसभा क्षेत्र के लिए मतगणना आब्जर्वर अमजद ताक व रोहतक लोकसभा क्षेत्र के लिए पुष्कर श्रीवास्तव ने बुधवार को जिला सचिवालय में कांउटिंग ड्यूटी मैनेजमेंट सिस्टम साफ्टवेयर द्वारा मतगणना सहायक, मतगणना सुपरवाईजर व मतगणना माईक्रो आब्जर्वर की डयूटी का दूसरा रेडंमाईजेशन किया। तीनों विधानसभा क्षेत्रों के मतों की गिनती के लिए 180 अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई। 

गुडगांव लोकसभा क्षेत्र के मतगणना आब्जर्वर अमजद ताक व रोहतक के लिए नियुक्त पुष्कर श्रीवास्तव ने मतगणना सहायक, मतगणना सुपरवाइजर व मतगणना माईक्रो आब्जर्वर की डयूटी का रेडंमाईजेशन किया तथा 60-60 अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई। उपायुक्त एवं जिला निर्वाचन अधिकारी अशोक कुमार शर्मा ने बताया कि तीनों विधानसभा क्षेत्रों के मतगणना केन्द्र में 14-14 टेबल काउंटिंग के लिए लगाई जाएगी। एक टेबल पर एक माईक्रो आब्जर्वर, एक सुपरवाईजर, एक मतगणना सहायक रहेगा। मतगणना सहायक कंट्रोल यूनिट को स्ट्रांग रूम से लाकर मतगणना सहायक को देगा। मतगणना सहायक कंट्रोल यूनिट को चलाएगा और मशीन को इस तरह पकड़ेगा कि माईक्रो आब्जर्वर, सुपरवाईजर व काउंटिंग एजेंट जो जाली के दूसरी ओर होंगे उसे अच्छी तरह से देख व पढ़ सकें। सुपरवाईजर व माईक्रो आब्जर्वर 17-सी पार्ट टू फार्म में प्राप्त मतों के अनुसार उम्मीदवारों के कालम में इन्द्राज करना सुनिश्चित करेंगे।

जिन्हें मिली है सुरक्षा, वो नहीं बन सकेंगे मतगणना एजेंट:

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

जिला निर्वाचन अधिकारी एंव उपायुक्त अशोक शर्मा ने बताया कि मतगणना एजेंट ऐसे किसी भी व्यक्ति को नहीं बनाया जाएगा, जिसे सुरक्षा मिली होगी। किसी भी विधायक, मंत्री, जिला परिषद चेयरमैन, नगरपरिषद चेयरमैन, नगरपालिका चेयरमैन को मतगणना एजेंट नहीं बनाया जा सकता। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

 

More From state

Trending Now
Recommended