संजीवनी टुडे

भाजपा नेता संजय मोदी के अपहरण कांड से हटा पर्दा, पुलिस और आम जनों ने लीं राहत की सांस

संजीवनी टुडे 23-02-2020 22:31:01

बरियारपुर थाना क्षेत्र के घोरघट गांव से दो दिन पूर्व कथित रूप से भारतीय जनता पार्टी के प्रखंड कमिटी के महामंत्री व व्यापारी संजय मोदी के अपहरण की रिपोर्ट गलत साबित हुई। वह खुद अपनी बहन के पास चंडीगढ़ चला गया था।


मुंगेर। बरियारपुर थाना क्षेत्र के घोरघट गांव से दो दिन पूर्व कथित रूप से भारतीय जनता पार्टी के प्रखंड कमिटी के महामंत्री व व्यापारी संजय मोदी के अपहरण की रिपोर्ट गलत साबित हुई। वह खुद अपनी बहन के पास चंडीगढ़ चला गया था।

मुंगेर पुलिस की त्वरित छानबीन ने भाजपा नेता के कथित अपहरण की घटना पर से आज पर्दा उठा दिया। पुलिस और आम जनों ने राहत की सांस लीं।

 पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने आज अपराह्न जारी प्रेस-विज्ञप्ति में बताया कि दो दिन पूर्व शुक्रवार को दिन में ही भाजपा प्रखंड महामंत्री संजय मोदी अचानक लापता हो गए थे। वे गांधीपुर गांव में रिम्पु कुमार के पास पैसा लेने गए थे। रिम्पु कुमार के घर संजय मोदी की मोबाइल मिली थीं। 

अभिभावक ने पुत्र के अपहरण की रिपोर्ट पुलिस में दर्ज की थीं । 22 फरवरी को अपहृत मोदी की सकुशल बरामदी के लिए घोरघट गांव के नजदीक मुंगेर-भागलपुर मुख्य सड़क मार्ग को भी आक्रोशित ग्रामीणों ने जाम किया था।

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि जब पुलिस ने संजय मोदी के मोबाईल के काल-रिकार्ड को खंगाला और सीडी0आर0 का विश्लेषण किया ,तो उनके किसी व्यक्ति से एन0सी0आर0 में बात-चीत का पता चला। बरियारपुर थाना के थानाध्यक्ष ने दिल्ली, नोएडा और चंडीगढ़ में रह रहे बरियारपुर के कुछ लोगों से संपर्क बनाया ,तो आज सुबह संजय मोदी के चंडीगढ़ में देखे जाने की जानकारी मिली। 

आज सुबह ही पुलिस ने मोबाईल पर संजय मोदी से बात कीं,तो मोदी के अपहरण पर से पर्दा उठ गया और बात सामने आई कि वह खुद बकाया रूपए के तगादा में कहा-सुनी होने के बाद अपना मोबाइल फेंककर अपनी बहन के घर चंडीगढ़ चला गया था। उसने पुलिस से अपहरण की घटना से पूरी तरह इन्कार किया है। 

इस बीच, संजय मोदी के पिता शिवशंकर मोदी ने पुलिस को आज लिखित सूचना दी है कि उनका लड़का स्वयं चंडीगढ़ चला गया था। रिम्पू कुमार की कोई संदिग्ध गतिविधि सामने नहीं आई है। 

पुलिस अधीक्षक ने आगे बताया कि भाजपा नेता संजय मोदी के कथित अपहरण कांड को सुलझाने में गठित विशेष पुलिस दल का नेतृत्व अपर पुलिस अधीक्षक हरि शंकर कुमार कर रहे थे। उन्हें सहयोग कर रहे थे बरियारपुर थाना के थानाध्यक्ष राजेश रंजन, कासिम बाजार थाना के थानाध्यक्ष शैलेश कुमार, एसआईओयू प्रभारी विनय सिंह और अन्य। पुलिस अधीक्षक ने इस सनसनीखेज अपहरण कांड पर से पर्दा उठानेवाले विशेष पुलिस दल के सभी सदस्यों को पुरस्कृत करने की घोषणा की है। 

पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह ने मुंगेर की जनता से अपील की है कि इस प्रकार के मामलों में धैर्य बरतें, कानून को अपने हाथ में न लें और पुलिस को काम करने के लिए पर्याप्त मौका प्रदान करें।

यह खबर भी पढ़े: CAA समर्थन में दो बहनों ने अपनी शादी के कार्ड पर छपवाया कुछ ऐसा, कार्ड बना चर्चा का विषय

यह खबर भी पढ़े: CAA विरोधी प्रदर्शन के दौरान अलीगढ़ पुलिस पर पथराव व फायरिंग, कोतवाली में लगाई आग

मात्र 289/- प्रति sq. Feet में जयपुर में प्लॉट बुक करें 9314166166

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended