संजीवनी टुडे

आय से अधिक संपत्ति के मामले में कोर्ट ने आरोपियों को दी सजा

संजीवनी टुडे 18-05-2018 13:18:34


जयपुर। आय से अधिक संपत्ति करने के 20 साल पुराने मामले में एसीबी कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया। न्यायाधीश अश्विनी विज ने मुख्य आरोपी टीटी हॉस्पिटल के मालिक डॉ. राजेंद्र प्रसाद शर्मा और पत्नी मोहिनी शर्मा सास-ससुर समेत कई आरोपियों पर 1.24 करोड़ का जुर्माना लगाया। डॉक्टर दंपती को 7 साल की सजा सुनाई अन्य 3 आरोपियों को 5 साल और बाकि 2 आरोपियों को 3 साल की सजा सुनाई। 


कोर्ट ने टीटी हॉस्पिटल को अवैध आय से अर्जित संपत्ति मानते हुए सरकार को सौंपने के आदेश भी दिए हैं। टीटी हॉस्पिटल कोटा के सबसे पुराने निजी अस्पतालों में से एक है इसकी कीमत करीब 10 करोड़ रुपए है। एसीबी ने पाया कि डॉ. शर्मा ने सेवाकाल में 25 लाख रुपए अर्जित किए थे।जिनमें से 4 लाख  रुपए खर्च मानते हुए उनकी शुद्ध बचत 21 लाख रुपए बनते है। जबकि उस वक्त उनकी अर्जित संपत्तियों की कीमत 55 लाख रुपए निकली,जो उनकी वैध आय से 33 लाख रुपए यानी 151 प्रतिशत ज्यादा थी। अपने स्पष्टीकरण में डॉ. शर्मा ने कहा कि हॉस्पिटल की संपत्तियों से मेरा लेना-देना नहीं है।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH

एसीबी ने जांच में पाया कि अस्पताल के अस्तित्व में आने से पहले के दस्तावेजों में डॉ. आरपी शर्मा का नाम था। प्रॉपर्टी कारोबारियों की मानें तो आज की स्थिति में अस्पताल की कीमत 8 से 10 करोड़ आंकी जा सकती है। इसमें अस्पताल का भवन, जमीन और उसमें मौजूद संसाधन भी आ जाते हैं। भ्रष्टाचार एक दीमक की तरह है जो अर्थव्यवस्था व देश को खोखला कर रहा है। 

 

 

Rochak News Web

More From state

Trending Now
Recommended