संजीवनी टुडे

Coronavirus LIVE Updates: झारखंड में अब तक का सबसे बड़ा कोरोना विस्फोट, एक साथ मिले 46 पॉजिटिव केस, बढ़ेगा लॉकडाउन

संजीवनी टुडे 30-05-2020 08:52:03

अब राज्य में 523 कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित मरीज हैं।


रांची। राज्य में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है। एक तरफ मरीज ठीक हो रहे हैं तो दूसरी तरफ नए पॉजिटिव केस भी तेजी से मिल रहे हैं। शुक्रवार को भी राज्य में कोरोना के 46 रिकार्ड नए मरीज मिले। हालांकि सात मरीज स्वस्थ भी हुए। इनमें कोडरमा के तीन, लोहरदगा के दो तथा जमशेदपुर व हजारीबाग के एक-एक मरीज शामिल हैं।

corona virus

इसके साथ ही इस विषाणु से संक्रमित लोगों की संख्या 500 के पार हो गई है। अब राज्य में 523 कोरोना वायरस के संक्रमण से पीड़ित मरीज हैं। इनमें 300 से ज्यादा प्रवासी श्रमिक हैं। 29 मई की रात 9:50 बजे जमशेदपुर से 10 नये कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले। 

corona virus

इससे पहले हजारीबाग से 10, रामगढ़ में 9, कोडरमा से 7, जमशेदपुर से 5, धनबाद से 3 और बोकारो से 2 कोरोना पॉजिटिव मरीज की पुष्टि हुई थी। रामगढ़ के संक्रमितों में पतरातू से 4, रामगढ़ प्रखंड से 4 और चितरपुर से 1 मरीज शामिल हैं। 

corona virus

पतरातू और चितरपुर के मरीजों की ट्रैवल हिस्ट्री मुंबई की है। वहीं, रामगढ़ प्रखंड के 4 मरीज बेंगलुरु, गुजरात, मुंबई और तमिलनाडु से लौटे थे। सभी को सरकारी कोरेंटिन में रखा गया था। जमशेदपुर से मिले सभी मरीजों की ट्रैवल हिस्ट्री महाराष्ट्र, दिल्ली, गुड़गांव और चेन्नई की है। लौटने के बाद से ये लोग भी कोरेंटिन सेंटर में थे। 

corona virus

धनबाद से मिले तीन संक्रमितों में एक बाघमारा का रहनेवाला है, जबकि दूसरा एग्यारकुंड क्षेत्र का। तीसरा व्यक्ति धनबाद भूंईफोड़ मंदिर के पास श्यामडीह का रहनेवाला है। तीनों प्रवासी हैं और कोरेंटिन में रह रहे हैं। जमशेदपुर से शुक्रवार को दो मरीजों को डिस्चार्ज भी किया गया है।

corona virus

बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन-
झारखंड में लॉकडाउन बढ़ाया जा सकता है। यह संकेत मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने दिए हैं। उन्होंने शुक्रवार को कहा कि कोरोना संक्रमण के व्यवहार का अध्ययन किया जाएगा। संक्रमण फैलने की गति और रिकवरी दर का आकलन करने के बाद जरूरत पड़ी तो राज्य में लॉकडाउन बढ़ाया जाएगा। लॉकडाउन में ढील की कोई जल्दबाजी नहीं है। सीएम ने कहा कि सरकार की पहली प्राथमिकता कोरोना संक्रमण पर नियंत्रण करके राज्य के लोगों की जिंदगी बचाना है। 

corona virus

कोरोना संक्रमण बढ़ने से हतोत्साहित नहीं- 
मुख्यमंत्री ने कहा कि वह कोरोना संक्रमण बढ़ने से हतोत्साहित नहीं हैं। राज्य में कोरोना प्रबंधन की वजह से ही अन्य राज्यों से विपरीत झारखंड में कहीं भी अराजकता का माहौल नहीं है। कहीं भी सड़कों पर प्रवासी मजदूर पैदल चलते नहीं दिख रहे हैं।

corona virus

कहीं पर भी फंसे प्रवासी को लाएगी सरकार- 
सीएम ने कहा कि अब तक देश के विभिन्न राज्यों में फंसे करीब 4.5 लाख प्रवासी लोग झारखंड वापस आ चुके हैं, लेकिन अभी भी देश के कई दुर्गम स्थानों पर लोग फंसे हैं। इन्हें ट्रेन या आम यातायात के माध्यम से लाना बहुत मुश्किल है। सरकार ने स्पष्ट किया है कि श्रमिक जहां भी फंसे होंगे, सरकार उन्हें वापस लाएगी। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण के कारण मजदूर मानसिक तनाव में है। श्रमिकों को मानसिक तनाव से निकलकर सामान्य जीवन देना जरूरी है।  

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

यह खबर भी पढ़े: मोदी सरकार 2.0 का पहला साल Complete/ देखें देश के नाम लिखे पत्र की खास बातें

यह खबर भी पढ़े: अमेरिका ने WHO से तोड़े सारे संबंध, चीनी छात्रों के साथ कर सकता है बड़ी कार्रवाई

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended