संजीवनी टुडे

उत्तराखंड में राजस्थान के युवक की कोरोना वायरस रिपोर्ट पॉजिटिव, संख्या बढ़कर हुई 07

संजीवनी टुडे 29-03-2020 21:14:09

उत्तराखंड में जारी लॉक डाउन के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से ग्रसित एक और व्यक्ति की सैम्पल जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है।


देहरादून। उत्तराखंड में जारी लॉक डाउन के दौरान कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमण से ग्रसित एक और व्यक्ति की सैम्पल जांच रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है। प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण का सातवां पॉजिटिव केस है। हालांकि इनमें से दो मरीज अब तक ठीक होकर अस्पताल से डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। 

राज्य कंट्रोल रूम से मिली जानकारी के अनुसार इस 47 वर्षीय पुरुष मरीज में 24 मार्च को कोविड-19 संक्रमण के लक्षण दिखाई दिए। वह 26 मार्च को मिलिट्री हॉस्पिटल देहरादून में भर्ती हुआ, जिसका सैम्पल जांच के लिए 27 मार्च को हल्द्वानी मेडिकल कॉलेज लैब को भेजा गया था। पीड़ित व्यक्ति की ट्रेवल हिस्ट्री के अनुसार वह 10 मार्च को राजस्थान से देहरादून आया था लेकिन उस समय उसमें किसी प्रकार के कोरोना के लक्षण नहीं थे।

कोविड-19 संक्रमण पर प्रभावी नियंत्रण के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा पॉजिटिव पाए गए सभी व्यक्तियों के संपर्कों को चिह्नित करने का कार्य तीव्रता के साथ आरंभ कर दिया गया है और चयनित हो रहे व्यक्तियों की स्क्रीनिंग करते हुए उन्हें होम क्वॉरंटाइन अथवा फैसिलिटी क्वारंटाइन में रखा जा रहा है। इस बीच विभाग द्वारा विदेश यात्रा से आए हुए 1730 व्यक्तियों को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है। इसके अंतर्गत 31 व्यक्ति हॉस्पिटल आइसोलेशन में रखे गए हैं। 

विभाग द्वारा कोविड-19 संक्रमण पर नियंत्रण के लिए 1479 चिकित्सकों, 952 स्टाफ नर्स, 170 लैब टेक्नीशियन तथा 1751 फार्मासिस्ट को पूर्ण रूप से प्रशिक्षित कर लिया गया है। इसके अलावा पुलिस, एसडीआरएफ, पीआरडी, होमगार्ड, गढ़वाल मंडल विकास निगम तथा कुमाऊं मंडल विकास निगम, सैनिटेशन कर्मचारियों को पूर्ण तैयारी के साथ प्रशिक्षित कर दिया गया है।

स्वास्थ्य महानिदेशक डॉ अमिता उप्रेती ने बताया कि कोविड-19 संक्रमण पर नियंत्रण के लिए विभाग द्वारा अस्पतालों को भी चिह्नित किया जा चुका है, जिसके अनुसार 774 आइसोलेशन वार्ड तैयार किए जा चुके हैं। संदिग्ध लक्षणों वाले व्यक्तियों के लिए 903 बेड आरक्षित कर दिए गए हैं जबकि क्वॉरंटाइन फैसिलिटी में 1687 बेड तैयार किए जा चुके हैं। डा. उप्रेती ने जानकारी दी कि संक्रमण से बचाव एवं उपचार के दौरान चिकित्सकों एवं स्टाफ के लिए 3371 पीपीई किट, 6769 एन-95 मॉस्क, 2 लाख 33 हजार 386 ट्रिपल लेयर मॉस्क उपलब्ध करा दिए गए हैं। राज्य कंट्रोल रूम को आज 27 सैंपल की जांच रिपोर्ट प्राप्त हुई, जिसके अंतर्गत 26 सैंपल की जांच रिपोर्ट नेगेटिव है जबकि एक रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई है।

यह खबर भी पढ़े: कोरोना संदिग्ध महिला की ईलाज के दौरान मौत, 10 दिन पहले ही विदेश से लौटा था पति

यह खबर भी पढ़े: मुंबई में कोरोना पॉजीटिव महिला की मौत, संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर हुई 197

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended