संजीवनी टुडे

आईएएस प्रेम प्रकरण में मुख्यमंत्री के निर्देश पर जांच के लिए महिला समिति का गठन

संजीवनी टुडे 25-07-2019 17:41:04

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के निर्देश पर दिल्ली की एक महिला की ओर से राज्य के एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी के खिलाफ लगाये गये आरोपों की जांच के लिए एक महिला समिति का गठन किया गया है।


गांधीनगर। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी के निर्देश पर दिल्ली की एक महिला की ओर से राज्य के एक वरिष्ठ आईएएस अधिकारी के खिलाफ लगाये गये आरोपों की जांच के लिए एक महिला समिति का गठन किया गया है।

मुख्य सचिव जे एन सिंह ने बताया कि पांच सदस्यीय समिति का नेतृत्व वरिष्ठ आईएएस अधिकारी सुनयना तोमर करेंगी जबकि दो अन्य आईएएस अधिकारी ममता वर्मा और सोनल मिश्रा भी इसमें शामिल रहेंगी। इसके अलावा एक सेवानिवृत्त महिला अधिकारी और गैर सरकारी क्षेत्र की एक अन्य महिला भी इसमें शामिल होंगी। यह समिति जल्द से जल्द अथवा अधिकतम एक माह में अपनी रिपोर्ट सरकार को सौंपेगी जिसके आधार पर आगे की कार्रवाई की रूपरेखा तय होगी।

शादीशुदा होने के बावजूद उससे जबरन गुपचुप विवाह करने और बाद में प्रताडित करने से जुड़े इस कथित मामले की पहले से ही पुलिस और विभागीय जांच जारी है। 

सूत्रों ने बताया कि मुख्यमंत्री के रिपोर्ट तलब करने से उक्त अधिकारी की मुश्किले बढ़ सकती हैं। महिला ने आरोप लगाया है कि 2010 बैच के आईएएस अधिकारी गौरव दहिया (जिन्हे दो दिन पहले ही राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के निदेशक पद से स्थानांतरित कर सामान्य प्रशासन विभाग का संयुक्त सचिव बनाया गया है) ने वर्ष 2017 में अपने मेक्सिको प्रवास के दौरान सोशल मीडिया के जरिये उससे दोस्ती की थी और बाद में यह कहते हुए उसे शादी का प्रस्ताव दिया कि उन्होंने अपनी पहली पत्नी को तलाक देने के लिए अर्जी दे रखी है। 

उन्होंने उसे नशीला पदार्थ खिला कर उसके आपत्तिजनक चित्र भी ले लिये थे और इन्हें सोशल मीडिया पर अपलोड करने की धमकी भी दी थी। महिला का कहना है कि दहिया ने उससे पिछले साल फरवरी में तिरूपति बालाजी मंदिर में शादी कर ली थी। बाद में उसने एक लड़की को जन्म दिया तो उन्होंने यह कहते हुए उसे प्रताड़ित करना शुरू किया कि उन्हें लड़की नहीं लड़का चाहिए। उन्होंने कथित तौर पर नींद की गोलियों का ओवरडोज देकर मारने की कोशिश भी की।

महिला ने सबसे पहले इसी माह दिल्ली पुलिस की महिला अपराध शाखा में मामला दर्ज कराया था। इसे हाल में गांधीनगर के सेक्टर सात थाने में स्थानांतरित कर दिया गया।

हालांकि दहिया ने इन आरोपो को बेबुनियाद बताते हुए इनसे इंकार किया है और कहा है कि उन्होंने गत जून माह में ही पुलिस और फरवरी में विभाग को इस संबंध मे अपना बयान दे दिया था।

इस बीच उक्त महिला ने आज पत्रकारों से कहा कि वह न्याय चाहती है। उसके आरोपों को उक्त आईएएस के यात्रा संबंधी दस्तावेज से मिलान करने पर सही पाया जा सकता है। वह अपनी बच्ची की डीएनए जांच के लिए भी तैयार है। उसने कहा कि वह कभी भी दहिया से शादी नहीं करना चाहती थी क्योंकि उसके परिजन राजी नहीं थे और वह भी उनकी पहली पत्नी से हमदर्दी रखती थीं पर उन्होंने दबाव बना कर ऐसा किया।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

sssdsdd

More From state

Trending Now
Recommended