संजीवनी टुडे

दुष्कर्म की घटनाओं में कांग्रेस का दोहरा चरित्र उजागर- भदेल

संजीवनी टुडे 01-10-2020 19:02:58

राजस्थान में भाजपा की प्रवक्ता और विधायक अनिता भदेल ने कहा है कि बलात्कार के मामलों में कांग्रेस का दोहरा चरित्र उजागर हो रहा है यह निंदनीय है।


अजमेर। उत्तर प्रदेश के हाथरस दलित युवती के साथ सामूहिक बलात्कार, पीड़िता की मौत आरोपितों को सजा और शव का रात के अंधेरे में परिवारजनों की सहमति के विरुद्ध अंतिम संस्कार किए जाने को लेकर देशभर में सुलग रही दलदली राजनीति की आंच राजस्थान के अजमेर भी पहुंच गई है। राजस्थान में भाजपा की प्रवक्ता और विधायक अनिता भदेल ने कहा है कि बलात्कार के मामलों में कांग्रेस का दोहरा चरित्र उजागर हो रहा है यह निंदनीय है। 

उन्होंने कहा कि प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश के हाथरस में हुई घटना पर तो नाराजगी दिखाती है, लेकिन राजस्थान में हो रही घटनाओं पर चुप रहती हैं। क्या ऐसा इसलिए कि राजस्थान में कांग्रेस की सरकार है। भदेल ने प्रियंका गांधी को बताया कि राजस्थान में बांरा में दो नाबलिग लड़कियों के साथ तीन युवकों ने बलात्कार किया। दोनों बच्चियां चीख चीख कर अपनी आपबीती सुना रही हैं, लेकिन पुलिस इस मामले को रफा.दफा करने में लगी हुई है। बांरा की पीडि़त लड़कियों के बयान पर टीवी चैनलों तक में प्रसारित हो रहे हैं। सीकर में एक 14 वर्षीय बालिका के साथ दुष्कर्म किया और फिर उसके अश्लील वीडियो वायरल कर दिए। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि अपराधियों के हौंसले कितने बुलंद हैं। गंभीर बात तो यह है कि अब पीडि़ता पर ही मुकदमा वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है। लेकिन इस घटनाओं को अशोक गहलोत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार गंभीरता से नहीं ले रही है। विधायक भदेल ने प्रियंका गांधी से आग्रह किया कि वे स्वयं राजस्थान का दौरा कर दुष्कर्म पीडि़ताओं से मिले। जब प्रियंका गांधी हाथरस जा सकती हैं तो फिर राजस्थान के अजमेर बांरा और सीकर में क्यों नहीं आ सकती हैं क्या प्रियंका गांधी दुष्कर्म के मामलों में भी राजनीतिक नजरिए से देखती हैं।

 पीयूसीएल सहित अन्य स्वयंसेवी संगठनों ने किए प्रदर्शन
अजमेर कलेक्ट्रेट पर गुरुवार को मानवाधिकारवादी संगठन पीयूसीएल सहित अन्य स्वयंसेवी संस्थाओं ने हाथों में तख्ती व बैनर लेकर हाथरस की घटना के विरुद्ध जमकर प्रदर्शन किया और कलक्टर को प्रकाश राजपुरोहित राष्ट्रपति के नाम को ज्ञापन सौंपा। पीयूसीएल के महासचिव अनन्त भटनागर, पूर्व अध्यक्ष ओ पी रे ने मीडिया को बताया कि यह प्रदर्शन हाथरस के सामूहिक बलात्कार कांड की घटना के विरोध में किया गया है। उन्होंने कहा कि इस मामले में यूपी सरकार और वहां की पुलिसिंग की वे सभी कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। उन्होंने देश में माता बहनों के सुरक्षा और संरक्षा के लिए केंद्र व राज्य सरकारों के साथ सभी समाज बंधुओं से आगे आने की गुजारिश भी की है।

 उत्तर प्रदेश सरकार को भंग करने की मांग— 
दलित मुस्लिम एकता मंच के महासचिव सौरभ यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दलित व अल्पसंख्यक वर्ग में भय का माहौल है । सरकार इनकी रक्षा करने असफल तो हुई ही है , उल्टे सरकार द्वारा मामले को छुपाने का प्रयास किया गया वह ज्यादा बड़ा जघन्य अपराध है।  दलित मुस्लिम एकता मंच की ओर से मंच के संरक्षक प्रताप सिंह यादव के नेतृत्व में जिला कलक्टर अजमेर को राष्ट्रपति के नाम ज्ञापन दिया गया।

यह खबर भी पढ़े: रोहतांग में अटल टनल का प्रधानमंत्री मोदी शनिवार को करेंगे उद्घाटन

यह खबर भी पढ़े: नौगाम सेक्टर में पाकिस्तान ने की भारी गोलाबारी, दो जवान शहीद, चार घायल

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended