संजीवनी टुडे

जल अधिकार अधिनियम में आमजन की सहभागिता के लिए पंचायत स्‍तर पर होंगे सम्‍मेलन : मंत्री पांसे

संजीवनी टुडे 16-07-2019 17:31:28

प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री सुखदेव पांसे ने कहा कि जल संकट की स्थिति को देखते हुये प्रदेश सरकार ने जल अधिकार अधिनियम लागू करने का अभिनव कदम उठाया है।


बैतूल। प्रदेश के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री सुखदेव पांसे ने कहा कि जल संकट की स्थिति को देखते हुये प्रदेश सरकार ने जल अधिकार अधिनियम लागू करने का अभिनव कदम उठाया है। जिसके तहत हर व्यक्ति को पानी की उपलब्धता सुनिश्चित की जायेगी। बैतूल को इस अधिनियम को अमल में लाने वाला प्रदेश का पहला जिला बनाया जायेगा। अधिनियम में आमजन की सहभागिता सुनिश्चित करने के लिये पंचायत स्तर पर सम्मेलन आयोजित किये जायेंगे। उक्‍त बातें मंत्री पांसे ने मंगलवार को बैतूल ज‍िले के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी कार्यालय का आकस्मिक निरीक्षण करते हुये कही। 

??????

निरीक्षण के दौरान मंत्री पांसे ने बताया कि बैतूल के लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी कार्यालय को शीघ्र ही नये भवन की सौगात दी जायेगी। उन्‍होंने कहा कि सरकार जल संकट से निपटने के लिये दूरगामी योजनाएं बनाकर काम कर रही है। जल अधिकार अधिनियम भी इसी सोच के दृष्टिगत प्रभावशील किया जा रहा है। अधिनियम के तहत हर व्यक्ति को पानी उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी तो होगी ही, साथ ही पानी का दुरुपयोग भी रोका जायेगा। साथ ही लोगों को मितव्ययिता के साथ पानी का उपयोग करने के लिए जागरूक किया जायेगा। 

इस दौरान उन्होंने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग को निर्देश दिये कि वे इस बात के लिए सजग रहें कि सभी स्थानों पर स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता हो। पांसे ने कहा कि कहीं भी किसी भी स्थान पर लोगों को दूषित पेयजल न मिले। सभी स्थानों पर हैण्डपंपों की जांच कर पेयजल की शुद्धता सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि सभी हैण्डपंपों का क्लोरीनेशन विभाग द्वारा कराया जाये। जहां पानी दूषित है अथवा फ्लोराइड युक्त है, उन हैण्डपंपों का पानी पेयजल के लिए प्रतिबंधित किया जाये। 

निरीक्षण के दौरान पांसे ने पीएचई कार्यालय में संचालित जल परीक्षण लेबोरेट्री की व्यवस्थाएं भी देखीं। साथ ही कहा कि जल परीक्षण कार्य में तत्परता बरती जाये। उन्‍होंने भवन के निरीक्षण के दौरान यहां संचालित विभिन्न शाखाओं की जानकारी ली। नये भवन की आवश्यकता को देखते हुए पीएचई मंत्री ने कहा कि शीघ्र ही यहां नये भवन के निर्माण की स्वीकृति दी जायेगी। 

इस दौरान उन्होंने बताया कि इस वर्ष के बजट में 350 करोड़ की राशि प्रस्तावित कर मुलताई विधानसभा क्षेत्र के सभी ग्रामों में समूह नल-जल योजना के माध्यम से पेयजल सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। बैतूल एवं भैंसदेही विधानसभा क्षेत्र में समूह नल-जल योजना के लिए भी डीपीआर बनाने का कार्य संचालित है। डीपीआर का कार्य पूर्ण होने पर इन विधानसभाओं में शीघ्रता से समूह नल-जल योजना स्वीकृत करने का कार्य किया जायेगा। 

उन्होंने कहा कि वर्धा डेम का कार्य भी तेज रफ्तार से कराया जा रहा है। बिरूलबाजार का जिक्र करते हुये पांसे ने कहा कि देहगुड़ बांध से पांच किमी लंबी पाइप लाइन डालकर लगभग 15 लाख रुपए की लागत से बिरूलबाजार में पेयजल योजना प्रारंभ की गई है। उन्‍होंने कहा कि ग्राम पंचायत की जवाबदारी है कि वह यहां पेयजल योजना का सुचारू संचालन सुनिश्चित करे। इस अवसर पर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के अधीक्षण यंत्री पी.के. मेदमवार एवं कार्यपालन यंत्री विनोद छारी मौजूद रहे।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

bhggd

More From state

Trending Now