संजीवनी टुडे

सीएम ने असम स्टार्ट अप 'द नेस्ट' का किया उद्घाटन

संजीवनी टुडे 20-01-2019 23:54:00


गुवाहाटी। मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने रविवार की शाम उद्योग और वाणिज्य विभाग की पहल पर असम स्टार्ट अप 'द नेस्ट' का उद्घाटन किया। यह पहल स्टार्ट-अप उद्यमों के लिए राज्य के स्वामित्व वाला इनक्यूबेटर है, जो कंपनियों को बढ़ावा देकर व्यापार के माहौल को बढ़ाने का अवसर मुहैया कराएगा। साथ ही उन्हें स्थापित करने और उनकी वृद्धि और सफलता में तेजी लाने में मदद करेगा। 

राज्य सरकार औद्योगिक विकास को सुविधाजनक बनाने व निवेशकों के अनुकूल वातावरण प्रदान करने के लिए सभी प्रयास कर रही है। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि राज्य की नीति ने राज्य में व्यापार और व्यवसाय को गति दी है और इस नीति के माध्यम से राज्य तेजी से आगे बढ़ेगा।

जयपुर में प्लॉट/ फार्म हाउस: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में, मात्र 2.30 लाख Call:09314188188

उन्होंने कहा कि एक्ट ईस्ट पॉलिसी से राज्य के ट्रेड व व्यापार में विकास होगा, जिससे राज्य गेटवे और दक्षिण पूर्व एशिया का व्यापारिक केंद्र बनेगा। उन्होंने राज्य सरकार की उद्योग अनुकूल नीतियां जैसे नॉर्थ ईस्ट इंडस्ट्रियल डेवलपमेंट स्कीम और असम की औद्योगिक एवं निवेश नीति पर भी प्रकाश डाला, जिसने राज्य के औद्योगिक क्षेत्र को गति दी है।

आईआईएम कोलकाता इनोवेशन पार्क से तकनीकी विशेषज्ञता के साथ असम स्टार्ट-अप नीति 2017 के तहत राज्य सरकार द्वारा स्थापित केंद्र का लक्ष्य अगले पांच वर्षों में कम से कम 1000 नए स्टार्ट-अप के विकास की सुविधा प्रदान करना है। यह स्टार्ट-अप इकोसिस्टम में उत्कृष्टता के केंद्र के रूप में स्वयं को स्थापित करते हुए राज्य स्टार्ट-अप्स और इनक्यूबेटरों के लिए 250 मिलियन अमरीकी डॉलर के वित्त पोषण के अवसरों को आकर्षित करने का प्रयास करेगा। स्टार्ट-अप उद्यमियों को अपनी परियोजनाओं के वित्तपोषण के लिए नेटवर्किंग के अवसर भी मुहैया कराएगा। इन्क्यूबेशन सेंटर में समर्पित मेंटरशिप और क्षमता वृद्धि प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि असम में एडवांटेज असम निवेश शिखर सम्मेलन के दौरान कुल 79,000 करोड़ रुपये में से 12,000 करोड़ रुपये का निवेश किया गया है, जिसमें कुल 240 एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए थे। सोनोवाल ने कहा कि यह स्टार्ट अप इनक्यूबेशन सेंटर का एक परिणाम है कि शिखर सम्मेलन राज्य के युवा इच्छुक उद्यमियों के लिए विकास के नए रास्ते खोलेगा। सोनोवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की नीतिगत पहल और बुनियादी ढांचे के विकास के द्वारा पूर्वोत्तर क्षेत्र में उच्च विकास पथ पर आगे बढ़ने के क्षेत्र के लिए उनकी प्रतिबद्धता साबित हुई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रयासों से पूर्वोत्तर को देश के लिए विकास का अष्टलक्ष्मी और नया विकास इंजन बना दिया है। उन्होंने कहा कि हमारे युवाओं को सभी क्षेत्रों में उत्कृष्टता हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत करनी चाहिए। इस तरह से एक स्वस्थ कार्य संस्कृति को विकसित करना चाहिए जो राज्य के लिए तेजी से विकास को संभव बनायेगी।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

इस मौके पर उद्योग और वाणिज्य मंत्री चंद्र मोहन पटवारी ने कहा कि वे दुनिया में जहां भी गए, वहां पर असमिया युवाओं को कुछ प्रमुख संगठनों का नेतृत्व करते पाया है। इसलिए यह केंद्र युवा उद्यमियों के शानदार विचारों को एक मंच प्रदान करेगा ताकि वे अधिक से अधिक चीजें प्राप्त कर सकें और रोजगार पैदा कर सकें।  देश के कई सफल उद्यमी जैसे कि पॉलिसी बाजार डॉट कॉम के आलोक बंसल, हियरिंग प्लस के अरूप नंदन दास अधिकारी और मेंटर इस अवसर पर उपस्थित थे। जिन्होंने अपने विचारों को बड़े उद्यमों में शुरू करने और बदलने के अपने अनुभवों को साझा किया। कार्यक्रम में एआईडीसी के उपाध्यक्ष जीतू तालुकदार, उद्योग और वाणिज्य विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव रवि कपूर, आयुक्त और कार्मिक विभाग के सचिव केके द्विवेदी भी उपस्थित रहे।

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended