संजीवनी टुडे

ज़रूरतमंदों के लिए वरदान साबित हो रहा है “ समर्पण वस्त्र बैंक “ व “बुक बैंक”

संजीवनी टुडे 25-11-2020 12:14:38

समर्पण सेवकों द्वारा जरूरतमंदो को कॉलोनी, कच्ची बस्ती व गाँवों मे चिन्हित कर नियमित कम्बल व स्वेटर वितरित किये जा रहे है।


जयपुर। मानवता व परोपकार के लिए समर्पित समर्पण संस्था द्वारा संचालित “समर्पण वस्त्र बैंक “ व “ बुक बैंक “ जरूरतमंदो के लिए वरदान साबित हो रहा है ।

Surrender Clothing Bank

वस्त्र बैंक द्वारा यस एन.जी.ओ. के संस्थापक डॉ. नरेन्द्र जोशी को निवारू रोड पर जरूरतमंदो को बाँटने के लिए सूची के अनुसार नाम से पैकेट बनाकर कपड़े भेंट किये।

Surrender Clothing Bank

समर्पण सेवकों द्वारा जरूरतमंदो को कॉलोनी, कच्ची बस्ती व गाँवों मे चिन्हित कर नियमित कम्बल व स्वेटर वितरित किये जा रहे है अब तक 100 कम्बल व स्वेटर भेंट किये जा चुके है। और यह सिलसिला नियमित जारी है।

Surrender Clothing Bank

समर्पण वस्त्र बैंक परिसर में मुकुल फॉउन्डेशन व फिनॉलेक्स पाइप के सहयोग से समर्पण संस्था द्वारा 75 जरूरतमंद परिवारो को चिन्हित करके सूची के अनुसार  एक माह का राशन वितरित किया गया। राशन किट मे आटा, दाल, चावल, लाइपबॉय साबुन, सूजी , लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, धनिया पाउडर , चायपत्ती , ज़ीरा, रिफाइन्ड तेल, चीनी , नारियल तेल, सैनीटाइजर , मास्क, सेनटरी पैड, मैगी आदि सामग्री पैक की गई थी। 

Surrender Clothing Bank

समाजसेवी व दानदाताओ मे परमार्थ के लिए उत्साह बना हुआ है। समाजसेवी बिशन सिंह ने 35 जोड़ी नयी चप्पल भेट की है। बुक बैंक मे भी दानदाता पुरानी किताबें जमा करवा रहे है । अब तक लगभग 500 किताबें जमा की जा चुकी है तथा ज़रूरतमंद विद्यार्थी किताबें लेने भी आ रहे है। 

Surrender Clothing Bank

वस्त्र बैंक में लगभग 5000 कपड़ों का स्टॉक है। जरूरतमंद सीधे वस्त्र बैंक आकर कपड़ें ले रहे है  इसके साथ सामाजिक कार्यकर्ता व समाजसेवी अलग अलग क्षेत्रो मे साइज की सूची के अनुसार कपड़े ले जाकर वितरित कर रहे है। समर्पण संस्था के संस्थापक अध्यक्ष आर्किटेक्ट डॉ. दौलत राम माल्या ने दानदाताओ से अपील की है कि अभी सर्दी के गरम कपड़े ,कम्बल , रज़ाई, गद्दे आदि ही जमा करवाये।

यह खबर भी पढ़े: Ind vs Aus/ टीम इंडिया में कौन पूरी कर सकता है विराट और रोहित की कमी, स्टीव स्मिथ ने बताये ये नाम

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended