संजीवनी टुडे

रानी लक्ष्मीबाई को मुख्यमंत्री ने दी श्रद्धांजलि

संजीवनी टुडे 18-06-2019 10:51:19

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने क्रांतिकारी रानी लक्ष्मी बाई को पुण्यतिथि के मौके पर याद कर श्रद्धांजलि दी है। मंगलवार सुबह उन्होंने इस बारे में ट्वीट किया। इसमें उन्होंने लिखा है कि आज महारानी लक्ष्मी बाई की पुण्यतिथि है।


कोलकाता। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने क्रांतिकारी रानी लक्ष्मी बाई को पुण्यतिथि के मौके पर याद कर श्रद्धांजलि दी है। मंगलवार सुबह उन्होंने इस बारे में ट्वीट किया। इसमें उन्होंने लिखा है कि आज महारानी लक्ष्मी बाई की पुण्यतिथि है। भारत की पहली स्वतंत्रता की लड़ाई में उन्होंने अनुपम शौर्य का प्रदर्शन किया था। इस मौके पर मैं उन्हें याद कर प्रेमपूर्वक श्रद्धांजलि दे रही हूं। 

19 नवंबर 1828 को जन्मी रानी लक्ष्मीबाई मराठा शासित झाँसी राज्य की रानी और 1857 की द्वितीय शहीद वीरांगना (प्रथम शहीद वीरांगना रानी अवन्ति बाई लोधी 20 मार्च 1858 हैं) भारतीय स्वतंत्रता संग्राम 1857 के भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम की वीरांगना थीं। उन्होंने सिर्फ़ 29 साल की उम्र में अंग्रेज़ साम्राज्य की सेना से जद्दोजहद की और रणभूमि में वे वीरगति को प्राप्त हुईं। झाँसी 1857 के संग्राम का एक प्रमुख केन्द्र बन गया जहाँ हिंसा भड़क उठी। 

रानी लक्ष्मीबाई ने झाँसी की सुरक्षा को सुदृढ़ करना शुरू कर दिया और एक स्वयंसेवक सेना का गठन प्रारम्भ किया। इस सेना में महिलाओं की भर्ती की गयी और उन्हें युद्ध का प्रशिक्षण दिया गया। साधारण जनता ने भी इस संग्राम में सहयोग दिया। झलकारी बाई जो लक्ष्मीबाई की हमशक्ल थी को उसने अपनी सेना में प्रमुख स्थान दिया। 

18 जून 1858 को ग्वालियर के पास कोटा की सराय में ब्रितानी सेना से लड़ते-लड़ते रानी लक्ष्मीबाई शहीद हो गई। लड़ाई की रिपोर्ट में ब्रितानी जनरल ह्यूरोज़ ने टिप्पणी की कि रानी लक्ष्मीबाई अपनी सुन्दरता, चालाकी और दृढ़ता के लिये उल्लेखनीय तो थी ही, विद्रोही नेताओं में सबसे अधिक ख़तरनाक भी थी। 

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended