संजीवनी टुडे

गया में छठ पर्व को लेकर ट्रैफिक व्यवस्था में बदलाव

संजीवनी टुडे 10-11-2018 17:00:33


गया। छठ पर्व को लेकर गया शहर में आने वाली बड़ी वाहनों का गया शहर में 13 नवम्बर को 12:00 बजे दोपहर से रा़त्रि 22:00 बजे तक तथा 14 नवंबर को रा़त्रि में 02:00 से रा़त्रि 22:00 बजे तक प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा।

डीएम अभिषेक सिंह के अनुसार छोटी गाड़ी (कार, बोलेरो इत्यादि) छोटकी नवादा बागेश्वरी गुमटी रेलवे स्टेशन होते हुए शहर में प्रवेश करेगी। उन्होंने कहा कि पटना की ओर से आने वाली बड़ी गाड़ियां गया- पटना पथ में कंडी नवादा के पास 13 नवम्बर के 12:00 दोपहर से रूकेगी। डोभी की ओर से गया आने वाली बड़ी गाडि़याँ डोभी में ही 13 नवम्बर के 12:00 दोपहर से रूकेंगी। शेरघाटी से चेरकी होकर गया आने वाली बड़ी वाहन शेरघाटी में ही 13 नवम्बर को 12:00 दोपहर से रूकेंगी। नवादा की ओर से गया की ओर आने वाली बड़ी गाडियां मानपुर में मेहता पेट्रोल पम्प के पास 13 नवम्बर के 12:00 दोपहर से रूकेंगी। ) खिजरसराय की ओर से आने वाली बड़ी वाहन बुनियादगंज थाना के पास13 नवम्बर के 12:00 दोपहर से रूकेगी। )

डीएम श्री सिंह के अनुसार आवश्यक सेवा के वाहनों को छोड़कर गया शहरी क्षेत्र में वाहनों के प्रवेश पर छठ पर्व तक जीबी रोड में वाहनों का प्रवेश वर्जित रहेगा। चाँद-चौरा पूर्वी गेट से केवल पैदल छठ व्रतियां ही जायेगें। सभी प्रकार के वाहनों का प्रवेश वर्जित रहेगा। 

केन्दुई घाट जाने वाले वाहन गेवाल बिगहा- शाहमीर तक्या- चाँद चौरा पश्चिमी- नारायणचुआँ- बंगाली आश्रम- नारायणी माई पूल- घुघरीटाँड़ बाईपास होते हुए जायेगी। यह मार्ग एकल मार्ग होगा। घुघरीटाँड बाईपास से गेवाल बिगहा की ओर वाहनो का प्रवेश वर्जित रहेगा। शहर के अन्य क्षेत्रों से सिकडि़या मोड़ होकर केन्दुई घाट जाने वाले छठ व्रतियों का वाहन 05 नं0 गेट होते हुए केन्दुई घाट एवं आई.टी.आई.घाट जायेगें।

केन्दुई के आस-पास के घाट पर पूजन के उपरान्त पार्किंग स्थल से अपनी वाहनों को राजापुर मोड़-नोड 2 - नोड 1 दोमुहान होते हुए वापस सिकडि़या मोड़ की तरफ आयेगें। बाटा मोड़ से टिकारी रोड मे 11 नवम्बर से दोपहिया वाहनों को छोड़कर किसी भी प्रकार के वाहनों का प्रवेश वर्जित रहेगा। 

उन्होंने बताया कि पिता महेश्वर घाट पर आने वाले छठ व्रतियों की गाड़ी मितल मोजैक मोड़ एवं पीर मंसुर मोड़ के पास छठ व्रतियों को उतारकर जिला स्कूल के पार्किंग स्थल में अपने वाहनों को खड़ा करेगें। मुफसिल की तरफ से केन्दुई जाने वाले छठ व्रतियों की गाड़ी घुघरीटाँड़ बाईपास होकर केन्दुई जायेगी।रामशीला घाट पर आने वाले छठ व्रती अपने वाहनों को कुष्ठ अस्पताल परिसर में पार्क करेंगे। केन्दुई घाट पर जाने वाले छठ व्रतियों का ट्रैक्टर एवं ट्रक का पार्किंग घाट नं0-03 पर रहेगा।टावर चौक से रमना रोड में छठ व्रतियों की वाहनों को छोड़कर अन्य वाहनों का प्रवेश वर्जित रहेगा। जी0बी0 रोड मेें छठ व्रतियों के वाहन को छोड़कर अन्य वाहनों का प्रवेश वर्जित रहेगा। सूर्यकुण्ड घाट जाने वाले छठ व्रतियों के वाहनों का पार्किंग कॉलरा अस्पताल मैदान में रहेगा। 

कोयरीबारी मोड़ से विष्णुपद की ओर जाने वाली सभी प्रकार के वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। नारायणी पुल से विष्णुपद थाना की ओर आने वाली वाहनों का प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा। गया शहर से केन्दुई घाट जाने का एकल मार्ग और पीरमंसुर मोड़- डीएम गोलम्बर- काशीनाथ मोड़- गेवाल बिगहा तोड़-मरोड़ शाहमीर तक्या मोड़- मंगलागौरी मोड़- माड़नपुर मोड़- घुघरीटाँड बाईपास- केन्दुई घाट की ओर जायेगी।

वापसी का रास्ता (एकल मार्ग) और केन्दुई सूर्य मंदिर- राजापुर मोड़- दोमुहान- सिकडि़या मोड़- से गंतव्य की ओर जायेगी। जिलाधिकारी ने बताया कि पार्किंग स्थल, पिता महेश्वर घाट के लिए जिला स्कूल मैदान, सूर्यकुण्ड घाट एवं अन्य घाट के लिए कॉलरा अस्पताल मैदान, केन्दुई घाट के लिए आई0टी0आई0/पॉलीटेक्निक मैदान एवं सूर्य मंदिर के पहले खुला स्थान में और रामशीला घाट के लिए रामशीला इवनिंग कॉलेज एवं कुष्ठ अस्पताल परिसर मे की गई है।

छठ पर्व के अवसर पर तालाब और पोखर के समीप तैराकों की प्रतिनियुक्ति करते हुए जिलाधिकारी अभिषेक सिंह द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि 11 नवंबर से 14 नवंबर तक छठ पर्व मनाया जाएगा। इस वर्ष छठ महापर्व दिनांक 11 नवंबर 2018 को नहाए खाए, दिनांक 12 नवंबर को खरना, 13 नवंबर को प्रथम अर्घ्य तथा 14 नवंबर को द्वितीय अर्घ्य है। प्रातः भगवान भास्कर को छठ व्रतियों द्वारा द्वितीय अर्घ्य अर्पित किया जाएगा। प्रथम अर्घ्य हेतु अपराह्न 1:00 बजे एवं द्वितीय अर्घ्य हेतु प्रातः 3:00 बजे से ही विभिन्न घाटों पर छठ व्रर्तियों एवं छठ व्रत में शामिल होने वाले श्रद्धालुओं का पहुंचना आरंभ हो जाता है। 

उक्त अवसर पर गया जिला के विभिन्न घाटों पर काफी संख्या में महिला, पुरुष एवं बच्चे अर्घ्य देने हेतु एकत्रित होते हैं। जहां काफी भीड़ की स्थिति होती है। जिसके कारण विभिन्न घाटों एवं सरोवरों में छठ व्रर्तियों तथा उनके साथ आने वाले श्रद्धालुओं को फिसलकर तालाबों/ पोखरों में डूबने की आशंका रहती है। संभावित दुर्घटना के मद्देनजर से जिला प्रशासन गया द्वारा विभिन्न तालाबों/ पोखरों पर स्थानीय तैराकों की प्रतिनियुक्ति की जा रही है।

सूर्य कुंड सरोवर में प्रतिनियुक्त तैराक दीपक कुमार सिपाही, बीएमपी 3- मोबाइल नंबर 91229 47253 एवं धीरज कुमार गुप्ता मोबाइल नंबर 99392 08912, सूर्य पोखर तालाब मानपुर में तैराक बंटी कुमार रजक- मोबाइल न0 88046 82689, सरयू तालाब में तैराक पवन कुमार -मोबाइल नंबर 96933 92099, सिंगरा थाना डैम में तैराक संजीत कुमार गुप्ता- मोबाइल नंबर 99394 06935, पिता महेश्वर सरोवर अश्विनी कुमार पाठक- मोबाइल नंबर 99340 69150, रजनीकांत पांडे 97980 13343, रुक्मिणी घाट तैराक शशी रंजन कुमार पांडे -मोबाइल नंबर

2.40 लाख में प्लॉट जयपुर: 21000 डाउन पेमेन्ट शेष राशि 18 माह की आसान किस्तों में Call:09314166166

MUST WATCH & SUBSCRIBE

99735 65616, रामशिला तालाब छोटू कुमार गुप्ता- मोबाइल न0 93394 06935, प्रेतशिला सरोवर तैराक राजू राय -मोबाइल नंबर 80834 34618, सूर्य मंदिर सह मुंद्रा सरोवर कुजापी तैराक प्रभात सिंह- मोबाइल नंबर 82945 85807 की प्रतिनियुक्ति की गई है। उन्होंने सभी प्रतिनियुक्त तैराको को जिला आपदा शाखा गया से 10 नवंबर को लाइफ जैकेट दिया जाएगा। उक्त जैकेट को पहनकर छठ पर्व दिनांक 11 से 14 नवंबर तक अपने प्रतिनियुक्त स्थल पर ससमय उपस्थित रहकर संबंधित घाटों पर अपने कर्तव्यों का शत प्रतिशत अनुपालन करने का आदेश दिया है।

sanjeevni app

More From state

Loading...
Trending Now