संजीवनी टुडे

कौस्तव रॉय के खिलाफ सीबीआई ने दर्ज की नई प्राथमिकी

संजीवनी टुडे 08-11-2018 19:10:00


कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के बेहद करीबी माने जाने वाले कारोबारी कौस्तव रॉय और उनकी सहयोगी दीपप्रिय मित्रा के खिलाफ सीबीआई ने नए सिरे से प्राथमिकी दर्ज की है। यह प्राथमिकी यूनाइटेड बैंक आफ इंडिया को 18.37 करोड रुपये का चूना लगाने के मामले में दर्ज की गई है। गुरुवार को यह जानकारी जांच एजेंसी के एक अधिकारी ने दी।

 उन्होंने बताया कि कौस्तव और उनकी सहयोगी दीपप्रिया मित्रा ने अपनी कंप्यूटर कंपनी आरपी इन्फोटेक के नाम पर विभिन्न बैंकों से ₹42 करोड़ का ऋण 2009 में लिया था। इसमें से यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया ने 20 करोड़ रुपये ऋण दिया था। समय बीतता गया और कौस्तव रॉय ने बैंक का कर्ज चुकता नहीं किया। 2017 में जब बैंक की ओर से अंतिम रिपोर्ट पेश की गई तो उसमें 18.37 करोड़ रुपये का नुकसान दिखाया गया जो आरपी इन्फोटेक कंपनी को दिए गए ऋण का हिस्सा था। 

इसके बाद इससे संबंधित शिकायत सीबीआई के पास दर्ज कराई गई थी जिसमें कंपनी के दोनों निदेशकों के खिलाफ नए सिरे से प्राथमिकी दर्ज कर जांच शुरू की गई है। इसमें यह भी पता चला है कि आरपी इन्फोटेक के अलावा कौस्तव रॉय और उनकी सहयोगी ने अपनी दूसरी कंपनी आरपी इंफोसिस्टम के नाम पर भी ऋण के लिए आवेदन किया था लेकिन इसके लिए जो दस्तावेज इस्तेमाल किए गए थे वह वास्तव में कंपनी की दर्शायी गई क्षमता के मामले में फर्जी निकले हैं। ऐसे में एक बार फिर कौस्तव रॉय से पूछताछ की तैयारियां की जा रही हैं।

ज्ञात हो कि पिछले सप्ताह ही सीबीआई ने उन्हें सॉल्टलेक के सीजीओ कंपलेक्स स्थित दफ्तर में बुलाकर पूछताछ की थी। उस दौरान पता चला था कि कौस्तव ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की बनाई गई 10 पेंटिंग्स को ऊंची कीमत पर खरीदी थी। सीबीआई ने उन पेंटिंग्स को भी जब्त कर लिया है और उसके बाद अब उनके खिलाफ नए सिरे से दर्ज की गई प्राथमिकी कहीं ना कहीं सत्तारूढ़ तृणमूल के खिलाफ जांच एजेंसी की तेजी को दर्शाने वाला है।

ज्ञात हो कि बैंकों से ऋण लेकर नहीं चुकाने के मामले में कौस्तव राय के खिलाफ कई शिकायतें दर्ज है और उसे पहले भी गिरफ्तार किया गया है। 

sanjeevni app

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended