संजीवनी टुडे

नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में सीबीआई ने फिर लिखी एप्पल को चिट्ठी

संजीवनी टुडे 21-02-2019 16:38:39


कोलकाता। पश्चिम बंगाल की राजनीति में विधानसभा 2016 के समय से ही हंगामा मचाने वाले नारद स्टिंग ऑपरेशन मामले में एक बार फिर केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो ने फोन कंपनी एप्पल को चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी में जांच एजेंसी ने जानना चाहा है कि स्टिंग ऑपरेशन जिस मोबाइल से किया गया, वह एप्पल का था या नहीं? उसके और सारे तथ्य क्या-क्या हैं आदि। 

केंद्रीय विदेश मंत्रालय की मदद से चिट्ठी एप्पल के प्रबंधकों को भेजकर जांच में सहयोग करने की अपील की गई है। उसमें नारद स्टिंग ऑपरेशन करने वाले न्यूज पोर्टल के सीईओ मैथ्यू सैमुअल के मोबाइल फोन से संबंधित जानकारी साझा करने को कहा गया है। नारद स्टिंग ऑपरेशन की जांच करने वाले अधिकारी रंजीत कुमार को सीबीआई के नवनियुक्त निदेशक ऋषि कुमार शुक्ला ने दिल्ली तलब किया था।

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.30 लाख में Call On: 09314188188

उन्होंने जानना चाहा था कि आखिर मामले की जांच में इतनी देर क्यों हो रही है? तब उन्होंने बताया था कि मैथ्यू सैमुअल ने जो वीडियो फुटेज दिया है, उसकी फॉरेंसिक जांच तो हो गई है लेकिन वह एप्पल के मोबाइल फोन से किया गया है या नहीं, इसकी पुष्टि अभी बाकी है। इसके बाद सीबीआई निदेशक के निर्देश पर रंजीत कुमार ने एक और चिट्ठी तैयार की है, जिसे केंद्रीय विदेश मंत्रालय की मदद से एप्पल के सीईओ तक पहुंचाया गया है। पिछले साल छह मार्च को भी सीबीआई ने चिट्ठी एप्पल के सीईओ को लिखी थी और इस मामले में तथ्य मांगा था, लेकिन तब एप्पल की ओर से किसी भी तरह के सहयोग से इन्कार कर दिया गया था।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

उल्लेखनीय है कि 2016 के विधानसभा चुनाव से पहले नारद न्यूज़ पोर्टल की ओर से 428 मिनट का एक स्टिंग ऑपरेशन जारी किया गया था। इसमें पश्चिम बंगाल के सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल के 11 नेता, मंत्री और एक आईपीएस अधिकारी कैमरे पर घूस लेते हुए नजर आ रहे थे। ये सारे अधिकारी एक फर्जी कंपनी के सीईओ बने नारद न्यूज पोर्टल के सीईओ मैथ्यू सैमुअल से लाखों रुपये घूस लेकर फर्जी कंपनी को कारोबार करने में मदद करने का आश्वासन दे रहे थे। इस स्टिंग ऑपरेशन में राज्य के वर्तमान शहरी विकास मंत्री और कोलकाता के मेयर फिरहाद हकीम, पूर्व खेल मंत्री मदन मित्र, आईपीएस एसएमएच मिर्जा व तृणमूल के कई सांसद और वर्तमान में भाजपा तथा तत्कालीन तृणमूल के दिग्गज नेता मुकुल रॉय फंसे हुए हैं। न्यायालय के निर्देश पर सीबीआई घटना की जांच कर रही है, लेकिन इसमें कुछ खास प्रगति नहीं हुई है।

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended