संजीवनी टुडे

सीबीआई ने पीएफ अधिकारी को रिश्वत लेते किया गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 18-03-2019 21:57:08


मुंबई। केंद्रीय जांच ब्यूरो ने कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ), नागपुर में कार्यरत एक अधिकारी को शिकायतकर्ता से 50,000 रुपये की रिश्वत मांगने के आरोप में गिरफ्तार किया है। सीबीआई ने प्रवर्तन अधिकारी के खिलाफ पीसी (संशोधन) अधिनियम, 2018 के तहत मामला दर्ज किया है। शिकायतकर्ता की ओऱ से आरोप लगाया गया है कि उसकी नागपुर स्थित फर्म की ओऱ से बिजली उद्योग समेत विभिन्न उद्योगों को मैनपावर की आपूर्ति की जाती है। कंपनी में काम करनेवाले कर्मचारियों के लिए प्रोविडेंट फंड के रूप में ईपीएफओ में नियमित रूप से कंपनी भुगतान कर रही थी। पीएफ विभाग में काम करनेवाले प्रवर्तन अधिकारी ने पिछले सात साल की ऑडिट रिपोर्ट को मंजूर करने के लिए साढ़े तीन लाख रुपये देने अन्यथा फंसा देने की धमकी दी थी। शिकायतकर्ता ने पुलिस विभाग को इस बारे में सूचित कर दिया था। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

सोमवार को शिकायतकर्ता की ओर से बताया गया कि प्रवर्तन अधिकारी ने उसके कार्यालय का दौरा किया और पिछले 5 वर्षों के कर्मचारियों के पीएफ से संबंधित विभिन्न दस्तावेज मांगे। उस अधिकारी ने सभी ऑडिट कराए गए दस्तावेजों के साथ ईपीएफओ कार्यालय में बुलाया था। पीएफ ऑडिट के बारे में पूछताछ के बाद संबंधित अधिकारी ने शिकायतकर्ता से कहा कि बिना किसी बाधा के ऑडिट रिपोर्ट को मंजूरी देने के लिए रिश्वत देनी पड़ेगी। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

अधिकारी ने पिछले 7 वर्षों का ऑडिट मंजूर करने के नाम पर 50,000 रुपये प्रति वर्ष की दर से कुल 3,50,000 रुपये की डिमांड की। लेकिन शिकायतकर्ता ने अधिकारी को रिश्वत नहीं दी। शिकायतकर्ता ने बताया कि रुपये न मिलने पर नाराज प्रवर्तन अधिकारी ने उसके कार्यालय का दौरा करने औऱ फंसाने की धमकी दी। बाद में, दोनों के बीच मामला तीन लाख रुपये पर तय हुआ। इस बीच, शिकायतकर्ता ने इसकी जानकारी पुलिस क्राइम ब्रांच को दे दी। सीबीआई की एक टीम ने जाल बिछाकर प्रवर्तन अधिकारी को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ लिया। 

More From state

Loading...
Trending Now