संजीवनी टुडे

SSP कार्यालय के बाहर धरना दे रही महिला को कार ने मारी टक्कर

संजीवनी टुडे 23-10-2020 17:01:50

महिला को उपचार के लिए नागरिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है।


जींद। ससुरालीजनों के खिलाफ संतोषजनक कार्रवाई न होने के रोष स्वरूप एसएसपी कार्यालय के बाहर धरना दे रही महिला शुक्रवार को भी डटी रही। दोपहर को एक कार ने महिला को टक्कर मार घायल कर दिया। जिस पर महिला को तुरंत प्रभाव से उपचार के लिए नागरिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 

घटना से गुस्साए सामाजिक संगठनों के कार्यकर्ताओं ने पुलिस कार्यशैली के खिलाफ नारेबाजी की। फिलहाल महिला नागरिक अस्पताल में उपचाराधीन है और न्याय की गुहार लगा रही है। गौरतलब है कि जुलाना थाना क्षेत्र की एक महिला दिल्ली में मौजूद अपनी सुसरालीजनों के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर गत 19 अक्टूबर को एससएसपी कार्यालय के समक्ष धरने पर बैठी थी। 

तब पुलिसकर्मियों द्वारा जबरन उसे उठाया गया था। महिला ने आरोप भी लगाए थे कि उसके साथ अभद्र व्यवहार किया गया है और यहां तक कि उसके कपड़े भी फट गए हैं। तब डीएसपी पुष्पा खत्री द्वारा महिला को मामले में उचित कार्रवाई का आश्वासन दे धरने से उठवा दिया था। महिला का आरोप है कि उसकी शादी दिल्ली में हुई है। उसकी शिकायत पर नौ ससुरालीजनों के खिलाफ 19 जून को दहेज उत्पीडऩ, मारपीट करने, छेड़छाड़ करने का मामला भी दिल्ली में दर्ज है। 

जबकि बाद में महिला ने महिला थाना में नौ ससुरालीजनों के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ के साथ सामूहिक दुष्कर्म, मारपीट करने समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज करवाया था। पुलिस ने इस मामले में उसके पति कुनालकांत, ससुर रजनीकांत तथा सास सुनीता को गिरफ्तार कर लिया है। अब महिला आरोप लगा रही है कि पुलिस आरोपितों से मिली हुई है और केवल दहेज उत्पीडऩ की धाराएं लगाकर तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया है। 

जबकि उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म भी हुआ है। महिला ने ससुरालीजनों को अपराधिक प्रवृति का बताया और खुद की हत्या की आशंका भी जताई। शुक्रवार को भी जब महिला धरने पर बैठी हुई थी तो एक कार ने उसे टक्कर मार दी। जिसमें वह घायल हो गई। महिला को उपचार के लिए नागरिक अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। डीएसपी पुष्पा खत्री ने बताया कि महिला ने ससुरालीजनों के खिलाफ दिल्ली में मारपीट, छेड़छाड़ समेत विभिन्न धाराओं के तहत मुकद्दमा दर्ज है। मामले की जांच दिल्ली पुलिस द्वारा की जा रही है।  

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान में कांस्टेबलों की ग्रेड पे बढ़ाने की मांग वित्त विभाग ने की खारिज

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended