संजीवनी टुडे

सीएबी जनसंघ के अखंड भारत के सपने पर हमला- रामगोविन्द चौधरी

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 16-12-2019 19:13:47

उत्तर प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविन्द चौधरी ने कहा है कि सीएबी भारतीय जनसंघ के उस अखंड भारत के सपने पर हमला है जो उन्होंने देखा था ।


बलिया। उत्तर प्रदेश विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रामगोविन्द चौधरी ने कहा है कि नागरिक संशोधन बिल (सीएबी) भारतीय जनसंघ के उस अखंड भारत के सपने पर हमला है जो उन्होंने देखा था। चौधरी ने कहा कि भारतीय जनसंघ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की मूल पार्टी है। उन्होंने कहा कि अखंड भारत का नारा लगाने वाले और उसमे आस्था रखने वाले सभी लोगों से अपील की है कि वे दलीय अनुशासन को तोड़कर इस बिल का विरोध करें और पार्टी के भीतर भी बिल को वापस लेने का दबाव बनाये।

यह खबर भी पढ़ें:​ ​PM मोदी की अध्यक्षता में हुई राष्ट्रीय गंगा परिषद बैठक, महाकुंभ को लेकर दिए सार्थक दिशा निर्देश

उन्होंने कहा कि इस बिल को लेकर पूरे देश में गुस्सा है। असम समेत पूर्वोत्तर के राज्य जल रहे हैं । दिल्ली के जामिया मिलिया के छात्रों पर पुलिस ने जिस तरह से लाठी चार्ज किया गया वह असहनीय है । इसे लेकर शांत इलाके भी उग्र हो जांय तो कोई ताज्जुब नहीं होगा । नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि 1947 का बंटवारा दुखद था । समाजवादी हमेशा इस बंटवारे को नकली बंटवारा कहते थे और कहते हैं।

चौधरी ने कहा कि इस बंटवारे के जख्म को कम करने के लिए ही समाजवादी नेता भारत-पाक-बांग्लादेश महासंघ की मांग करते रहे हैं । भारतीय जनसंघ के लोग हम समाजवादियों से एक कदम आगे बढ़कर अखंड भारत की मांग करते रहे हैं । उन्होंने कहा कि आज धर्म के आधार पर जो लोग नागरिकता तय करा रहे हैं उन्हें यह जानना चाहिए कि अखंड भारत बनता या बनेगा तो पाकिस्तान और बांग्लादेश से भागकर आए हिन्दू मुसलमान ही नहीं, बिना किसी धार्मिक भेदभाव के इन तीनों देशों की सम्पूर्ण आबादी अखंड भारत के नागरिक होते । इसीलिये यह बिल भारतीय जनसंघ के उस अखंड भारत के सपने पर भी हमला है जो उसने देखा था।

उन्होंने कहा कि रोजगार, भूख और आर्थिक मोर्चे पर बुरी तरह से फेल केन्द्र सरकार ने लोगों का ध्यान मूल मुद्दे से भटकाने के लिए यह बिल जल्दबाजी में लाई है ,यदि इसे अविलम्ब वापस नहीं लिया गया तो देश उस स्थिति की ओर चला जाएगा जहां अमन अमान की स्थिति बहाल करना कठीन हो जाएगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended