संजीवनी टुडे

मेट्रो रूट पर चलने वाली बसों-ऑटो में 25 प्रतिशत सवारियां हुईं कम

संजीवनी टुडे 27-03-2019 12:05:07


लखनऊ। राजधानी लखनऊ के मेट्रो रूट पर चलने वाली सिटी बसों-ऑटो में करीब 25 प्रतिशत सवारियां कम हो गईं हैं। इस रूट पर चलने वाले ऑटो और ​सिटी बस चालकों ने अब दूसरा रूट तलाशना शुरू कर दिया है। 

सिटी परिवहन ​के प्रबंधक निदेशक आरिफ सकलैन ने बुधवार को बताया कि लखनऊ मेट्रो के रूट पर चलने वाली सिटी बसों में अब 20 से 25 प्रतिशत सवारियां कम हो गई है। इसलिए जल्द ही दूसरा रूट तलाश कर सिटी बसों को वहां चलाया जाएगा। 

उन्होंने ​कहा कि राजधानी में एयरपोर्ट से मुंशी पुलिया के बीच मेट्रो के संचालन के साथ ही सार्वजनिक वाहनों का एकाधिकार खत्म होने लगा है। इस रूट के आसपास के स्टेशनों से आने-जाने वालों ने सिटी बसों और ऑटो-टेम्पो से किनारा करना शुरू कर दिया है। फिलहाल मेट्रो स्टेशनों तक फीडर बसों की तरह सेवाएं देने के लिए सिटी परिवहन अभी विचार कर रहा है।

उधर, मेट्रो रूट पर चलने वाले 150 से 200 ऑटो चालकों में से कई अब दूसरे रूट पर जाने लगे हैं। चारबाग से मुंशी पुलिया या चारबाग से अमौसी की जगह अब जानकीपुरम्, गोमतीनगर, फैजाबाद रोड और दूसरे मार्गों पर ऑटो चलने लगे हैं। मुंशी पुलिया चौराहे पर बने ऑटो और टेम्पो स्टैंड पर अब पहले की तरह भीड़ नहीं हो रही है।

चारबाग से मुंशी पुलिया के बीच ऑटो चलाने वाले शोभित यादव,मनोज तिवारी और दीपचंद सिंह ने बताया कि एयरपोर्ट से मुंशी पुलिया रूट पर अब ऑटो चलाने में फायदा नहीं है। इसलिए अब हम लोग फैजाबाद रोड पर ऑटो चलाने लगे हैं। दीपचंद ने कहा कि अब लोग ऑटो की अपेक्षा मेट्रो ट्रेन में जाना पसंद करते हैं। इसलिए ऑटो चालकों के सामने रोजी- रोटी का संकट हो गया है। 

More From state

Loading...
Trending Now
Recommended