संजीवनी टुडे

ब्रांड एम्बेसडर ने टंकी पर चढ़कर खोली पेयजल व्यवस्था की पोल

संजीवनी टुडे 18-03-2019 21:35:30


बैतूल। नगर में पेयजल संकट के चलते हाहाकार की स्थिति उत्पन्न ना हो इसके लिए नगर पालिका द्वारा एड़ी-चोटी का जोर लगाकर व्यवस्था बनाने का कार्य किया जा रहा है, लेकिन फिल्टर प्लांट पर काम करने वाले कर्मचारी सहित पंप आपरेटरों के बीच आपसी तालमेल नहीं होने का खामियाजा नगर पालिका अध्यक्ष के वार्ड सहित तीन वार्डों के हजारों वार्डवासियों को विगत 8 दिनों से भुगतने मजबूर होना पड़ रहा है। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

नगर पालिका की पेयजल व्यवस्था की नगर पालिका के ही ब्रांड एम्बेसडर ने जब टंकी पर चढ़कर जब सच्चाई से कलेक्टर और सीएमओ को कराते हुए पोल खोली तो नगर पालिका के अधिकारियों-कर्मचारियों में हड़कम्प मच गया। आनन-फानन में सीएमओ ने पंप आपरेटर और फिल्टर प्लांट पर काम करने वाले कर्मचारियों की बैठकर लेकर जहां कड़ी फटकार लगाई वहीं फिल्टर प्लांट प्रभारी को शोकाज नोटिस देते हुए एक पंप आपरेटर को निलंबित भी कर दिया है। इस मामले में नगर पालिका सीएमओ ने सख्त निर्देश दिए हैं कि पेयजल सप्लाई में जरा सी भी कोताही को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। सीएमओ प्रियंका सिंह पटेल के सख्त तेवरों को नगर पालिका के अधिकारियों-कर्मचारियों में हड़कम्प मचा हुआ है।

8 दिनों से खाली पड़ी थी टंकी
नगर के टैगोर वार्ड में पुलिस परेड मैदान में बनी 10 लाख लीटर की पेयजल टंकी 8 दिनों से खाली पड़ी हुई थी जिससे टैगोर वार्ड, राजेंद्र वार्ड और लोहिया वार्ड के वार्डवासियों को पेयजल सप्लाई नहीं हो पा रही थी। पेयजल सप्लाई करने के लिए जब नगर पालिका के ब्रांड एम्बेसडर संजय शुक्ला द्वारा फिल्टर प्लांट प्रभारी राकेश चौरसिया से बात की गई तो उन्होंने कहा कि टंकी भरी हुई है जबकि पंप आपरेटर उदयभान सिंह द्वारा टंकी खाली होने की बात कही गई। तीन दिनों से कर्मचारियों द्वारा इस तरह की बात बार-बार कही जा रही थी वहीं वार्डवासी पेयजल के लिए बुरी तरह परेशान हो रहे हैं। 

टंकी पर चढ़े ब्रांड एम्बेसडर
फिल्टर प्लांट प्रभारी राकेश चौरसिया और पंप आपरेटर उदयभान सिंह के द्वारा अलग-अलग बात कही जाने पर सच्चाई जानने के लिए सोमवार सुबह 10:40 बजे नगर पालिका के ब्रांड एम्बेसडर एवं राष्ट्रीय जनादेश के संपादकीय प्रमुख संजय शुक्ला स्वयं टंकी पर चढ़े तो देखा कि टंकी खाली पड़ी हुई थी। 
शुक्ला ने खाली टंकी की फोटो खींची और स्वयं की भी सेल्फी ली। इसके बाद सच्चाई से कलेक्टर तरूण पिथोड़े और नगर पालिका सीएमओ प्रियंका सिंह पटेल को व्हाट्सएप कर फोटो भेजकर और फोन कर सच्चाई से अवगत कराया। साथ ही शुक्ला ने कहा कि मैं अभी टंकी पर ही बैठा हुआ हूं। 

मौके पर पहुंचे सहायक यंत्री
कलेक्टर तरूण पिथोड़े और सीएमओ प्रियंका सिंह को सच्चाई का पता लगते ही तत्काल प्रभाव से सीएमओ ने सहायक यंत्री महेशचंद्र अग्रवाल को मौके पर पहुंचने के निर्देश दिए जिसके बाद अग्रवाल, सबइंजीनियर राहुल शर्मा, फिल्टर प्लांट से टंकी भरने वाला कर्मचारी अनिल गावंडे, पंप आपरेटर उदयभान सिंह टंकी के पास पहुंचे और हकीकत से जहां रूबरू हुए वहीं पेयजल व्यवस्था सुचारू करने का आश्वासन देते हुए शुक्ला को टंकी से उतरने के लिए कहा। इसके बाद शुक्ला टंकी से उतर गए। इसके बाद डेढ़ घंटे टंकी को भरी गई। शेष टंकी को रात में भरने का आश्वासन दिया गया। 

एक सस्पेंड और एक को थमाया नोटिस
ब्रांड एम्बेसडर शुक्ला द्वारा खोली गई नगर पालिका के लापरवाही कर्मचारियों की पोल के बाद सीएमओ प्रियंका सिंह ने बाल मंदिर सभागृह में दोपहर को सभी पंप आपरेटरों और फिल्टर प्लांट के कर्मचारियों की एक बैठक ली जिसमें फिल्टर प्लांट प्रभारी राकेश चौरसिया को जहां शोकाज नोटिस दिया गया वहीं पंप आपरेटर उदयभानसिंह को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है। इसके साथ ही सीएमओ ने सभी पंप आपरेटरों से दो टूक कहा कि पेयजल सप्लाई में लापरवाही बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सीएमओ के सख्त तेवरों से पंप आपरेटर और फिल्टर प्लांट पर काम करने वाले कर्मचारियों में हड़कम्प मचा हुआ है। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

पार्षदों ने मचाया हंगामा 
बालमंदिर सभागृह में सीएमओ श्रीमती सिंह द्वारा ली जा रही पंप आपरेटरों और फिल्टर प्लांट के कर्मचारियों की बैठक के दौरान पार्षद गोलू बतरा, सावन्या शेषकर, दिलीप सतीजा, पवन यादव, कैलाश धोटे, महेश राठौर एवं रवि ओमकार भी पहुंच गए और अपने-अपने वार्ड की समस्या बताने लगे। इस दौरान सीएमओ ने स्पष्ट कर दिया कि वर्तमान में आचार संहिता चल रही है मैं सामूहिक रूप से आप लोगों से चर्चा नहीं कर सकती हूं। इस पर पार्षदों ने विरोध करते हुए सभाकक्ष के बाहर निकल गए। सीएमओ का कहना था कि यदि पार्षदों की पेयजल समस्या है तो उसे प्राथमिकता से दूर किया जाएगा। इस संबंध में बैतूल नगर पालिका सीएमओ प्रियंका सिंह का कहना है कि टंकी नहीं भरने और पेयजल सप्लाई प्रभावित होने में पंप आपरेटर और फिल्टर प्लांट के कर्मचारियों की लापरवाही सामने आई है जिससे पंप आपरेटर को जहां सस्पेंड कर दिया है वहीं फिल्टर प्लांट के कर्मचारी को शोकाज नोटिस देकर जवाब मांगा है। इसके अलावा सभी पंप आपरेटरों और फिल्टर प्लांट के कर्मचारियों की बैठकर लेकर सख्त हिदायत दी गई है कि किसी भी कीमत पर पेयजल सप्लाई प्रभावित ना हो। 

More From state

Trending Now
Recommended