संजीवनी टुडे

एसबीआई, बैंक शिकारीपाड़ा के शाखा प्रबंधक पर गबन का मामला दर्ज, दूसरे दिन भी जांच जारी

संजीवनी टुडे 05-09-2020 21:40:27

दुमका जिले के शिकारीपाड़ा मुख्यालय स्थित भारतीय स्टेट बैंक के मैनेजर मनोज कुमार के खिलाफ शिकारीपाड़ा थाना में गबन का मामला दर्ज किया गया है


दुमका। दुमका जिले के शिकारीपाड़ा मुख्यालय स्थित भारतीय स्टेट बैंक के मैनेजर मनोज कुमार के खिलाफ शिकारीपाड़ा थाना में गबन का मामला दर्ज किया गया है। साहिबगंज निवासी मनोज कुमार शिकारीपाड़ा भारतीय स्टेट बैंक में मैनेजर के पद पर कार्यरत थे। बीते 4 सितंबर को कैशियर को 5 लाख का चेक देकर उससे 10.50 लाख रूपए लेकर गोड्डा मुख्य शाखा जाने की बात कह गायब है। लौटने पर बाकी पैसा लौटा देंने की बात कही थी। 

उसके बाद से ही शाखा प्रबंधक गायब है। उनका अभी तक कुछ पता नहीं चल पाया है। मामले में गड़बड़ी का खुलासा तब हुआ। जब शिकारीपाड़ा के पलासी गांव के पिंटू दत्ता को मोबाइल में लगभग 86 लाख रुपए निकासी का मैसेज किस्तों में मिला। जब उन्होंने शाखा प्रबंधक से बात की तो उन्होंने सर्वर सही नहीं होने का बहाना बना दिया। पिंटू दत्ता ने फिर शिकारीपाड़ा थाना में आवेदन देकर मामले की जानकारी दी।

 लेकिन थाना से पूछताछ करने गए पदाधिकारी को भी शाखा प्रबंधक ने सरवर नहीं होने की बात कही। मामले की जानकारी होने पर क्षेत्रीय कार्यालय गोड्डा रेंज के आरएम ने दुमका के शाखा प्रबंधक को शिकारीपाड़ा जाकर जांच करने का निर्देश दिया। शनिवार को पुनः मामले का जांच करने के लिए एसडीपीओ नूर मुस्तफा एवं एसबीआई के पदाधिकारी शिकारीपाड़ा पहुंचे। एसडीपीओ नूर मुस्तफा के अनुसार छानबीन के क्रम में लगभग 79 लाख रुपए की गड़बड़ी होने की बात सामने आ रही है। 

साथ ही एसबीआई के एटीएम में भी 26 लाख रुपए की गड़बड़ी होने की बात पता चल रहा है। पुलिस एटीएम को सील कर शाखा प्रबंधक के खिलाफ कांड संख्या 79/20 कैसियर सुधीर बाउरी के बयान पर धारा 406, 420 आईपीसी के तहत मामला दर्ज क्या गया है। इस केस का अनुसंधान एसआई छोटन महतो कर रहे हैं। आगे छानबीन की कार्रवाई जारी है। 

इसी के साथ शिकारीपाड़ा के जामुगड़िया स्थित एसबीआई के सीएसपी में भी गड़बड़ी की आशंका जताई जा रही है। बताते चलें कि 4 दिन पूर्व शिकारीपाड़ा कोल्हाबादर के महफूज अंसारी ने उक्त सीएसपी से 18000 की निकासी की।

 लेकिन सीएसपी संचालक ने उसे रुपए के बदले एक सादे कागज पर 18000 लिखकर एवं हस्ताक्षर करके दे दिया और कहा कि आधे घंटे बाद आकर रुपए ले जाना। उसके बाद 4 दिनों से वह व्यक्ति सीएसपी का चक्कर लगा रहा है। लेकिन उसे रुपए नहीं मिला और कल से तो शिकारीपाड़ा एसबीआई मुख्य ब्रांच में गड़बड़ी पकड़े जाने के बाद उक्त सीएसपी भी बंद है। आशंका व्यक्त की जा रही है कि बैंक की गड़बड़ी का तार इस सीएसपी से भी जुड़ा हुआ है।

यह खबर भी पढ़े: अगर आप भी पाना चाहती है काले, लंबे और घने बाल, तो ऐसे करें बेसन का इस्तेमाल

यह खबर भी पढ़े: ठाणे के पूर्व मेयर नईम खान की कांग्रेस में घर वापसी

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended