संजीवनी टुडे

अलीगढ़ से महागठबंधन का प्रत्याशी बदल सकती है बसपा

संजीवनी टुडे 13-03-2019 15:35:33


अलीगढ़। सपा-बसपा और रालोद का महागठबंधन भले ही हो गया हो लेकिन अभी भी प्रत्याशी को लेकर तरह-तरह की चर्चाओं का बाजार गर्म है। बसपा ने अजीत बालियान को उम्मीदवार बनाया है, लेकिन घोषणा होने वाली सभा से लेकर आज तक वह जनता का उतना समर्थन नहीं जुटा पाएं जितना लोग आशा कर रहे थे। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

विगत दिनों नुमाइश के कृष्णाजलि में हुए कार्यक्रम में खाली कुर्सियां रहने के बाद से ही अजीत बालियान के टिकट को लेकर चर्चाएं शुरू हो गई थी। अब उन चर्चाओं को बल मिलता दिख रहा है। पूर्व मंत्री रामवीर उपाध्याय की पत्नी व पूर्व सांसद सीमा उपाध्याय ने अब फतेहपुर सीकरी से दावेदारी खत्म करके अलीगढ़ पर दावेदारी कर दी है। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि वो कहां से चुनाव लड़ेंगी लेकिन अलीगढ़ में चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है।

सियासी हल्कों में चर्चाएं यह भी हैं कि अजीत बालियान के प्रचार की सुस्त रफ़्तार और अधिक जनसमर्थन न मिलने से रामवीर उपाध्याय परिवार की दावेदारी ज्यादा मजबूत हो गई है। हालांकि रामवीर उपाध्याय ने अभी अलीगढ़ से लड़ने की बात नहीं स्वीकारी है, उन्होंने कहा है कि बहनजी (मायावती) जहां से कहेंगी वहां से चुनाव लडूंगा। अलीगढ़ से चुनाव लड़ने के सवाल पर रामवीर उपाध्याय ने कहा कि बहनजी जहां से लड़ने के लिए कहेंगी वहीं से लडूंगा। 

उन्होंने कहा कि बसपा से 1996 में ही मैंने टिकट मांगा था। इसके बाद बहनजी का जो आदेश हुआ उसका पालन किया। अलीगढ़ में बसपा-सपा प्रत्याशी अजीत बालियान हमारे प्रत्याशी हैं, उन्हें लड़ाया जाएगा। भाजपा में जाने की उड़ी खबरों पर कहा कि ऐसा मैं सोच भी नहीं सकता। भाजपा में जाने की बातें कोरी अफवाहे हैं। मैं और मेरा परिवार बसपा के सिपाही हैं।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

बताते चलें कि अलीगढ़ में बसपा का एक धड़ा और नगर निगम के कुछ पार्षद अजीत बालियान का खुलकर विरोध कर रहे हैं। बसपा से जुड़े सूत्र कहते हैं कि दो से तीन दिन में स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। अब देखना यह है कि अजीत बालियान की टिकट कटता है या नहीं?

More From state

Trending Now
Recommended