संजीवनी टुडे

बिहार/ आईपीएस और आईएएस अधिकारी कोरोना पॉजिटव, कम्यूनिटी इंफेक्शन का बढ़ा खतरा

संजीवनी टुडे 29-05-2020 19:59:44

कोरोना वायरस महामारी से पुरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। बिहार में इसके कहर से कम्यूनिटी इंफेक्शन का खतरा बढ गया है।


पटना। कोरोना वायरस महामारी से पुरे देश में हाहाकार मचा हुआ है। बिहार में इसके  कहर से कम्यूनिटी इंफेक्शन का खतरा बढ गया है। अब ये वायरस दरभंगा जिले के कई अधिकारियों को अपने चपेट में लेना शुरू कर दिया है, जिसके बाद हडकंप मच गया है। बताया जा रहा है कि जिन अधिकारियों को कोरोना हुआ है उसमें आईपीएस अधिकारी से लेकर बीडीओ तक शामिल हैं, इन अधिकारियों के संपर्क में आने वाले लोगों का सैंपल कोरोना जांच के लिए भेजा गया है।

देश के विभिन्न राज्यों से बिहार के विभिन्न जिलों में लौट रहे बिहारियों में संक्रमण के बढते मामलों से यह आंकडा सामने आ रहा है। इस बीच केन्द्रीय कैबिनेट सचिव ने मुख्य सचिव से बात कर बिहार में कोरोना के हालात की जानकारी ली है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकडों को देखें तो बिहार में अबतक 2168 प्रवासी कोरोना पॉजिटिव पाए गये हैं, जबकि गुरुवार तक बिहार में 2041 कोरोना एक्टिव मरीज हैं।

इस बीच, दरभंगा नगर निगम में भी कोरोना का संक्रमण हो गया है, नगर निगम के दो कर्मी भी कोरोना पॉजिटिव हो गए है। इसके अलावे एक अधिकारी का ड्राइवर भी संक्रमित हुआ है, इसके साथ ही दरभंगा जिले में कोरोना पॉजिटिव मरीजों की खंख्या 87 हो गई है। यहां बता दें कि इससे पहले भी बिहार में आईपीएस और आईएएस अधिकारी कोरोना पॉजिटव हो चुके हैं और यह सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है।

यहां के क्वारंटीन सेंटर में प्रवासियों को रखा गया था, पहले उनमे एक संक्रमित मिला, बाद में वहां 10 और प्रवासी संक्रमित हो गये। इस तरह राज्य में कई मामले सामने आए हैं। आंकडों की बात करें तो दो जिलों में दो सौ और 8 जिलों में एक सौ से अधिक कोरोना मरीज की पहचान हुई है। वही, वीडियो कॉफ्रेंसिग के जरिए बातचीत में मुख्य सचिव ने बिहार में लॉकडाउन के अनुपालन को लेकर उठाए गये कदमों की जानकारी दी।

स्वास्थ्य विभाग के आंकडों के मुताबिक पटना जिले में संक्रमितों की संख्या बढकर 217 और रोहतास जिले में 201 हो चुकी है। वहीं, मधुबनी में 176, बेगूसराय में 159, मुंगेर में 148 समेत कई जिलों में सौ से ज्यादा मरीज मिले हैं। वहीं स्वास्थ्य विभाग द्वारा संक्रमितों की जांच, उनके क्वारेंटाइन, आइसोलेशन, और इलाज से जुडे संसाधनों को धीमी गति से जुटाया जा रहा है।

यह खबर भी पढ़े: ट्रम्प के सीमा विवाद पर मोदी के साथ बातचीत के दावे को भारत ने किया खारिज

यह खबर भी पढ़े: 1 जून से चलने वाली ट्रेनें इन स्टेशनों पर रुकेंगी, रेलवे ने जारी की लिस्ट

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended