संजीवनी टुडे

मनरेगा के तहत ग्रामीण रोजगार योजना में बंगाल अव्वल

संजीवनी टुडे 18-07-2019 11:04:31

मनरेगा के तहत ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को कम से कम 100 दिनों के रोजगार मुहैया कराने की केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना को लागू करने के मामले में पश्चिम बंगाल अव्वल है।


कोलकाता। मनरेगा के तहत ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को कम से कम 100 दिनों के रोजगार मुहैया कराने की केंद्र सरकार की महत्वाकांक्षी योजना को लागू करने के मामले में पश्चिम बंगाल अव्वल है। 

गुरुवार को यह जानकारी राज्य के ग्रामीण विकास विभाग की ओर से दी गई है। विज्ञप्ति के जरिए बताया गया है कि वित्त वर्ष 2017-18 और 2018-19 में 100 दिनों के रोजगार सृजन और अधिक से अधिक लोगों को भुगतान करने के मामले में बंगाल का प्रदर्शन पूरे देश में सबसे बेहतर रहा है।

विभाग की ओर से जारी आंकड़े के मुताबिक 2017-18 में, राज्य ने 31 करोड़ 25 लाख 55,000 व्यक्ति-दिवस बनाए, जो भारत में सबसे अधिक था। यह 33 करोड़ 84 लाख 69,000 व्यक्ति-दिनों तक चला गया, जो फिर से उच्चतम था। 

यही नहीं, मनरेगा मजदूरों को वेतन देने में खर्च होने वाली राशि के मामले में भी राज्य आगे है - वित्त वर्ष 2017-18 में 7,913.14 करोड़ रुपये मनरेगा मजदूरों को मेहनताना के तौर पर भुगतान किए गए हैं। ये संख्या तृणमूल कांग्रेस सरकार की ग्रामीण अर्थव्यवस्था को सुधारने में सफलता साबित करती है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हमेशा बंग्ला को विभिन्न पहलुओं पर और विभिन्न मापदंडों पर सर्वश्रेष्ठ राज्य बनाने की कोशिशें की हैं, जिसे केंद्र सरकार और अंतरराष्ट्रीय संगठनों द्वारा विभिन्न पुरस्कारों के माध्यम से समर्थन भी दिया गया है। हाल ही में केंद्रीय ग्रामीण विकास विभाग की ओर से भी एक आंकड़ा जारी किया गया था, जिसमें पश्चिम बंगाल को आवास योजना, 100 दिनों के रोजगार योजना और स्वच्छ भारत योजना में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन के लिए चुना गया था।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended