संजीवनी टुडे

बीआईसी कर्मचारी की मौत पर इंटक ने स्मृति ईरानी के खिलाफ थाने में दी तहरीर

संजीवनी टुडे 16-03-2019 20:15:43


कानपुर। चुनाव आते ही जहां आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया, वहीं कानपुर में केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी समेत उनके विभागीय अधिकारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराये जाने के लिए तहरीर दी गयी है। 

तहरीर देने वाले इंटक नेताओं का कहना है कि मंत्री और विभागीय अधिकारियों के लचर रवैये से बीआईसी के कर्मचारियों को वेतन नहीं मिल रहा है और आर्थिक तंगी से एक और कर्मचारी की मौत हो गयी। कपड़ा मंत्रालय के अधीन आने वाली कानपुर की लाल इमली जो ब्रिटिश इंडिया कॉरपोरशन से संबद्ध है। यहां पिछले 19 माह से कर्मचारियों का वेतन नहीं मिल पा रहा है। जिससे आर्थिक तंगी के चलते कई कर्मचारियों की मौत हो चुकी है। इसको लेकर समय-समय पर कर्मचारियों द्वारा विरोध प्रदर्शन भी किया जाता रहा है। दो दिन पहले वेतन न मिलने से एक और कर्मचारी नाथूराम की मौत हो गयी। जिसको लेकर कर्मचारियों में आक्रोश व्याप्त है। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

शनिवार को इंडियन नेशनल ट्रेड यूनियन (इंटक) नेता आशीष पाण्डेय के नेतृत्व में कर्मचारियों का एक प्रतिनिधि मंडल कर्नलगंज थाने पहुंचाऔर इंस्पेक्टर को केन्द्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी, बीआईसी चेयरमैन और लाल इमली के प्रबंधक के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज करने की तहरीर दी। इस दौरान कर्मचारी नाथूराम के परिजन भी मौजूद रहे। इंटक नेता ने कहा कि कर्मचारी की मौत के दोषी पूरी तरह से उपरोक्त लोग हैं और हमने थाने में तहरीर देकर जांच कर एफआईआर दर्ज करने की मांग की है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

बताया कि अब तक वेतन न मिलने से एक दर्जन से अधिक कर्मचारियों की मौत आर्थिक तंगी के चलते हो गयी है। इंटक नेता ने कहा कि अगर तहरीर पर आगे की कार्रवाई नहीं होती तो मजबूर होकर आचार संहिता के बाद कर्मचारी और इंटक मिलकर सड़कों पर उतरेगा। इस दौरान बीआईसी कर्मचारियों के साथ तमाम इंटक नेता भी मौजूद रहे।

More From state

Trending Now
Recommended