संजीवनी टुडे

उप्र विधानमंडल का मानसून सत्र शुरु होने से पहले हंगामा, दोनों सदन 19 तक के लिए स्थगित

संजीवनी टुडे 18-07-2019 14:27:18

उप्र विधानमंडल का मानसून सत्र शुरु होने से पहले हंगामा, दोनों सदन 19 तक के लिए स्थगित


लखनऊ। उत्तर प्रदेश विधानमंडल का मानसून सत्र गुरुवार को शुरु हुआ। प्रदेश की प्रमुख विपक्षी समाजवादी पार्टी (सपा) के सदस्यों ने पहले ही दिन कानून व्यवस्था को लेकर सदन के बाहर और अंदर जमकर हंगामा किया। शोक प्रस्ताव के बाद विधानसभा शुक्रवार तक के लिए स्थगित कर दी गई जबकि विधान परिषद की कार्यवाही हंगामे के चलते स्थगित हुई।

विधानमंडल के दोनों सदनों की कार्यवाही पूर्वाह्न 11 बजे प्रारम्भ होनी थी। इससे पहले करीब नौ बजे ही सपा के सदस्य विधान भवन पहुंच गए और पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के सामने धरने पर बैठ गए। सिर पर लाल टोपी और हाथों में तख्तियां लिए सपा सदस्य सरकार विरोधी नारे लगा रहे थे। वे प्रदेश की खराब कानून-व्यवस्था और पूर्व मंत्री मो. आजम खान के खिलाफ कार्रवाई को लेकर धरना दे रहे थे। विधानसभा में नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी और विधान परिषद में पार्टी के नेता अहमद हसन इन सबका नेतृत्व कर रहे थे। 

शोक प्रस्ताव के बाद विधानसभा स्थगित
ठीक 11 बजे विधानसभा की कार्यवाही प्रारम्भ हुई। शुभारम्भ वंदे मातरम् से हुआ। इसके बाद सदन के पांच बार सदस्य रहे आगरा पूर्वी के विधायक जगन प्रसाद गर्ग के निधन पर शोक प्रस्ताव लाया गया। 

नेता सदन व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और नेता विरोधी दल रामगोविंद चौधरी समेत सभी दलों के नेताओं ने स्व. गर्ग के प्रति शोक संवेदना व्यक्त की। सभी नेताओं ने स्व. गर्ग को एक कुशल राजनेता और सामाजिक कार्यकर्ता बताया। अंत में विधानसभा अध्यक्ष हृदयनारायण दीक्षित ने शोक संवेदना व्यक्त करते हुए सदन की कार्यवाही को कल 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

गौरतलब है कि आगरा में 30 जुलाई, 1952 में जन्मे जगन प्रसाद गर्ग का पिछले 10 अप्रैल को निधन हो गया था। आगरा पूर्वी विधानसभा क्षेत्र से पहली बार वह 1998 में भाजपा के टिकट पर विधायक चुने गए थे। इसके बाद 2002, 2007, 2012 और 2017 में भी वह उसी सीट से भाजपा के विधायक रहे।

हंगामे के चलते विधान परिषद भी स्थगित
उधर विधान परिषद की कार्यवाही प्रारम्भ होते ही सपा के सदस्य कानून व्यवस्था और पूर्व मंत्री मो. आजम खां के मुद्दे पर हंगामा करने लगे। सपा के सदस्य सभापति के आसन के सामने आकर नारेबाजी करने लगे। हंगामे के चलते परिषद में सदन की कार्यवाही दो बार स्थगित करनी पड़ी। इसके बाद भी जब सपा सदस्य शांत नहीं हुए तो सभापति रमेश यादव ने सदन की कार्यवाही शुक्रवार 11 बजे तक के लिए स्थगित कर दी।

बेहोश हुए सपा सदस्य
विधान परिषद की कार्यवाही प्रारम्भ होने से पहले सपा के एमएलसी हाजी इमलाक खां अहमद हसन के कक्ष में बेहोश हो गए। इसके बाद सचिवालय चिकित्सालय के डॉक्टरों ने उनका प्राथमिक उपचार किया। चिकित्सकों के अनुसार खान मधुमेह और उच्च रक्तचाप के मरीज हैं। 

26 तक चलेगा मानसून सत्र 
विधानमंडल का मानसून सत्र 26 जुलाई तक चलना प्रस्तावित है। सत्र के दूसरे दिन 19 जुलाई को अध्यादेश, अधिसूचनाएं व नियमों आदि से संबंधित दस्तावेज पटल पर रखे जाएंगे। इसके बाद 20 और 21 जुलाई को शनिवार व रविवार की छुट्टी होने के कारण सदन की कार्यवाही स्थगित रहेगी। फिर 22 जुलाई को विधायी कामकाज होगा और 23 जुलाई को योगी सरकार सदन में अनुपूरक बजट पेश करेगी। 24 जुलाई को बजट पर चर्चा होगी। इसके बाद 25 और 26 जुलाई को विधायी कामकाज होंगे।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended