संजीवनी टुडे

जिन्दा जले गंगाराम के कातिलों को गिरफ्तार करो, नहीं तो आंदोलन होगा- मेघवंशी

संजीवनी टुडे 05-03-2019 20:31:50


भीलवाड़ा। दलित आदिवासी एवं घुमन्तू अधिकार अभियान (डगर) ने भीलवाड़ा जिले के इंटमारिया पंचायत के उम्मेदनगर गांव निवासी गंगाराम बलाई को जिंदा जला कर मार डालने वाले कातिलों को शीघ्र गिरफ्तार करने की मांग की है। गंगाराम बलाई की चार दिन पूर्व बिजौलिया क्षेत्र के कास्या गांव में संदिग्ध मौत हो गयी थी। उसका शव पेड़ से बंधा हुआ व पूरा जला हुआ पाया गया था।

जयपुर में प्लॉट मात्र 260000/- में, 12 माह की आसान किस्तों में कॉल  9314166166

डगर के प्रदेश संयोजक भंवर मेघवंशी के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल ने मंगलवार को पीड़ित पक्ष से उसके गांव में मुलाकात कर घटना की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त की। मेघवंशी ने बताया कि पीड़ित परिजन जो कि अत्यंत गरीब लोग हैं, उन्होंने शिष्टमंडल को बताया कि 60 वर्षीय गंगाराम बलाई की पेट्रोल डाल कर 1 मार्च 2019 की सुबह निर्मम हत्या कर दी गई। घटना के 4 दिन बाद भी अभी तक हत्यारे पकड़े नहीं गये हैं। उसके भाई की ओर से पुलिस थाने में हत्या का मामला भी दर्ज कराया गया। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 260000/- में, 12 माह की आसान किस्तों में कॉल  9314166166

उन्होंने बताया कि पुलिस मृतक के कपड़ों से सुसाईड नोट मिलने की बात कह रही है ,जबकि मृतक अनपढ़ व्यक्ति था। वह अविवाहित भी था। जिस बेटी का सुसाइड नोट में जिक्र है, वास्तविकता में उसके कोई बेटी नहीं थी। वो तो अविवाहित था। न ही घर वालों से कोई रंजिश थी। ऐसे में सुसाईड करने की बात पूरी तरह से गलत है।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

शिष्टमंडल में मेघवंशी के साथ डगर के कार्यकर्ता देबीलाल मेघवंशी, राकेश शर्मा, मेघरास सरपंच कैलाश चन्द्र व हीरा लाल बलाई मौजूद थे। पीड़ितों से मुलाकात के बाद एक प्रेस वक्त्वय जारी कर मेघवंशी ने बताया कि अगर जल्द ही भीलवाड़ा पुलिस ने इस नृशंस हत्या के दोषियों को नहीं पकड़ा तो आंदोलनात्मक कदम उठाए जाएंगे। डगर के प्रदेश संयोजक ने इस संबंध में पुलिस के उच्चाधिकारियों से भी बात भी की है और मांग की है कि कातिलों की शीघ्र गिरफ्तारी की जाये।

More From state

Trending Now
Recommended