संजीवनी टुडे

अमरसर सरपंच हत्या मामला: चुनाव जीतने के बाद वादा पूरा नहीं किया तो मार दी गोली

संजीवनी टुडे 25-05-2020 20:32:48

जयपुर ग्रामीण के अमरसर थाना इलाके में 18 मई की रात को सरपंच ओमप्रकाश सैनी की गोली मार हत्या का खुलासा करते हुए शूटर सहित चार लोगों पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया है।


जयपुर। जयपुर ग्रामीण के अमरसर थाना इलाके में 18 मई की रात को सरपंच ओमप्रकाश सैनी की गोली मार हत्या का खुलासा करते हुए शूटर सहित चार लोगों पुलिस ने सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं तीन अन्य लगों की तलाश की जा रही है। पूछताछ में सामने आया कि सरपंच की हत्या इसलिए कि सरपंच का चुनाव जीतने के बाद वादा पूरा नहीं करने सहित मारपीट का बदला लेने के लिए की गई थी। फिलहाल आरोपितों से पूछताछ की जा रही है। 

जयपुर रेंज पुलिस महानिरीक्षक एस सेंगाथिर ने बताया कि हत्या के मामले में शूटर सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। जबकि इनके तीन साथियों की और तलाश है। उन्होंने बताया कि 18 मई की रात करीब सवा आठ बजे सरपंच ओमप्रकाश सैनी की हत्या की गई। परिजनों ने सरपंच का गांव के 23 लोगों से विवाद होना बताया था। पुलिस के सामने इन 23 लोगों की कुंडली खंगालने के साथ शार्प शूटरों का भी सुराग लगाना था। इसके लिए जयपुर ग्रामिण पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्मा के निर्देशन में चार आरपीए, 18 एसएचओ और 23 पुलिसकर्मियों दिन रात अपराधियों की पहचान करने में जुटे थे। 

जांच में सामने आया कि पांच छह माह पहले अमरसर निवासी संतु मीणा व गुलशन का सरपंच से विवाद हुआ था। सरपंच ने चुनाव लड़ते समय पट्टे देने का वादा किया था। लेकिन पट्टे नहीं दिए। इसके चलते संतु मीणा ने सरपंच के साथ अभद्रता की। तब सरपंच ने लोगों के साथ मिलकर उसकी पिटाई कर दी थी। तब ही उसने देख लेने की धमकी थी। हालांकि एसएमएस अस्पताल से छुट्टी होने के बाद संतु सरपंच को ठिकाने लगाने की साजिश रचने में लग गया था। वह गांव भी चोरी छिपे जाता था।

 जयपुर ग्रामिण पुलिस अधीक्षक शंकर दत्त शर्माने बताया कि संतु बनीपार्क निवासी हिमांशु जांगिड़ की गैंग का पहले से सदस्य है। उसने हिमांशु को सरपंच ओमप्रकाश के संबंध में बताया। तब गैंग के सदस्य मार्च में अलवर के पाराशर धाम पर गैंग ने हत्या की साजिश के लिए मीटिंग रखी। यहां पर गैंग के सदस्य गुलशन, मुकेश जाट, राकेश यादव को सरपंच की रेकी करने का काम सौंपा। संतु, हिमांशु और बंटी शर्मा ने हथियार व वाहन जुटाने की व्यवस्था की। हरियाणा की एक गैंग से पांच पिस्टल मंगवाई गई और आरोपी दो बाइक पर आए और सरपंच की हत्या कर फरार हो गए।

गैंग के खिलाफ कई अपराधिक वारदात करने के मामले दर्ज हैं। इनमें कई हत्या और हत्या के प्रयास के मामले शामिल हैं। आरोपित सबसे बड़ी गैंग बनने फिराक में बात-बात में गोलियां चलाते थे। पुलिस ने बनीपार्क स्थित इन्द्रा कॉलोनी निवासी हिमांशु जांगिड़ उर्फ जहांगीर, सीकर के श्रीमाधोपुर स्थित लिसाडिया निवासी राकेश यादव, श्रीमाधोपुर हाल अमरसर निवासी गुलशन शर्मा उर्फ प्रवीण और अमरसर स्थित लखावाली ढाणी निवासी मुकेश जाट को सरपंच ओमप्रकाश सैनी की गोली मार हत्या करने के मामले में गिरफ्तार किया गया है। वही उनके अन्य साथी सन्तोष उर्फ संतू और बंटी उर्फ सुरेन्द्र शर्मा फिलहाल पुलिस पकड से दूर है​ जिन्हे भी जल्द पकड लिया जाएगा। 

यह खबर भी पढ़े: कुएं में नौ शव मिलने का मामला सुलझा: एक हत्या का राज छिपाने के लिए की नौ हत्याएं, हत्यारोपित गिरफ्तार

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended