संजीवनी टुडे

मुख्यमंत्री ने दिये किसानों को समय पर भुगतान करने के निर्देश

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 18-10-2019 20:24:51

फ़सल की समय पर ख़रीद और उठान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि फ़सल बेचने के लिए मंडी में आने वाले किसानों को हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध करवाई जाये।


जालंधर। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने शुक्रवार को जिलाधीश वरिन्दर कुमार शर्मा को निर्देश देते हुए कहा कि धान की निर्विघ्न खरीद और उठान के साथ किसानों को समय पर उनका भुगतान किया जाए।

यह खबर भी पढ़ें: ​जनता के सुझावों को लागू कर रही भाजपा सरकार : लुईस

जिला की अनाज मंडियों में धान की चल रही ख़रीद प्रक्रिया का जायज़ा लेते हुए कैप्टन सिंह ने कहा कि राज्य सरकार धान की ख़रीद करने के लिए वचनबद्ध है। उन्होंने कहा कि प्रशासन को मंडियों से किसानों की फ़सल की समय पर ख़रीद और उठान करना चाहिए। उन्होंने कहा कि फ़सल बेचने के लिए मंडी में आने वाले किसानों को हर प्रकार की सुविधा उपलब्ध करवाई जाये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मौसम को देखते हुए मंडियों में धान की उठान में तेज़ी लाई जाये और धान को संभालने के लिए पुख़्ता इंतजाम किये जाए। उन्होंने आधिकारियों को प्रतिदिन धान की खरीद प्रक्रिया पर निगरानी रखने के लिए कहा।

उन्होंने आधिकारियों से यह भी कहा कि किसानों को पराली न जलाने के लिए प्रेरित किया जाये। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन को कृषि विभाग के साथ मिल कर इस गंभीर मुद्दे पर किसानों को जागरूक करने के लिए व्यापक जागरूकता अभियान चलाना चाहिए। कैप्टन सिंह ने कहा कि कृषि विभाग को इन-सीटू प्रबंधन के लिए किसानों को ज़्यादा से ज़्यादा अति आधुनिक खेती यंत्रों की बाँट करनी चाहिए।

इस अवसर पर श्री शर्मा ने मुख्यमंत्री को बताया कि 15 अक्टूबर तक जिले की मंडियों में आए धान में से 1.95 लाख टन धान में से 1.87 लाख टन धान की खरीद की जा चुकी है। उन्होंने मुख्यमंत्री को विश्वास दिलाया कि जिला प्रशासन किसानों के धान की समय पर निर्विघ्न खरीद और उठान के साथ-साथ किसानों को फसल का भुगतान करेगा।

इस अवसर पर सांसद चौधरी संतोख सिंह, विधायक चौधरी सुरिन्दर सिंह चेयरमैन पनसप तेजिन्दर सिंह बिट्टू, पुलिस कमिशनर गुरप्रीत सिंह और एस.एस.पी.नवजोत सिंह माहल और अन्य भी उपस्थित थे।

मात्र 13.21 लाख में अपने ख़ुद के मकान का सपना करें साकार, सांगानेर जयपुर में बना हुआ मकान कॉल - 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended