संजीवनी टुडे

खेतड़ी में अजीत विवेक संग्रहालय का हुआ उद्घाटन

संजीवनी टुडे 31-03-2019 20:53:53


झुंझुनू। लंबे समय से पूरे प्रदेश को जिस अजीत विवेक राष्ट्रीय संग्रहालय का इंतजार था। रविवार को उसका विधिवत उद्घाटन रामकृष्ण मिशन बेलूर मठ के महासचिव सुवीरानंद के कर कमलों से हुआ। इस मौके पर हुए कार्यक्रम की अध्यक्षता स्वामी शशांकानंद ने की। जबकि विशिष्ट अतिथि स्वामी आत्म निष्ठानंद, स्वामी स्वरूपानंद, स्वामी निखिलेश्वरानंद, स्वामी आत्मा श्रद्धानंद रहे। 

मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

राजस्थान में झुंझुनू जिले के खेतड़ी कस्बे के फतेह विलास महल अजीत विवेक संग्रहालय के लोकार्पण के अवसर पर पूरा कस्बा भगवा रंग में रंगा दिखाई दिया। देशभर के रामकृष्ण मिशन मठ से आए साधु तथा आचार्य पंडित भंवरलाल शास्त्री के मंत्र उच्चारण से मिशन प्रांगण गूंज उठा। पूरे संग्रहालय में मैना बाई द्वारा गाए गए सूरदास के प्रसिद्ध भजन प्रभु जी मेरे अवगुण चित ना धरो पूरे दिन आगंतुकों को मंत्रमुग्ध करता रहा। दोपहर को खेतड़ी के ऐतिहासिक पोलो ग्राउंड में आध्यात्मिक सभा का आयोजन किया गया। 

जिसमें भारतवर्ष से आए रामकृष्ण मिशन के साधुओं ने अपने विचार रखे और स्वामी विवेकानंद के बारे में लोगों को बताया तथा उनके जीवन परिचय पर विस्तार से प्रकाश डाला। शाम को शेखर सैन द्वारा विवेकानंद पर भव्य एकांकी नाटक प्रस्तुत किया गया। इस मौके पर बेलूर मठ के महासचिव सुवीरानंद ने मीडिया से रूबरू होते हुए कहा कि 1893 में स्वामी विवेकानंद द्वारा पूरे विश्व में सनातन धर्म का परचम लहराया था। उसमें खेतड़ी के राजा अजीतसिंह का विशेष योगदान था और आज इस पावन भूमि पर अजीत विवेक संग्रहालय बनाना। 

MUST WATCH & SUBSCRIBE

ऐतिहासिक और महत्वपूर्ण बात है। खेतड़ी स्वामी विवेकानंद के जीवन में एक विशेष स्थान रखता है। मिशन के सचिव आत्म निष्ठानंद ने जानकारी दी कि अजीत विवेक म्यूजियम सुबह 10 से शाम छह बजे तक विजिटर के लिए ओपन किया गया है। सोमवार को अवकाश रखा गया है। बड़ों और वयस्कों के लिए 50 रुपए, स्टूडेंट के लिए 10 रुपए, पांच वर्ष से 12 वर्ष के बच्चों के लिए पांच रुपए की टिकट रखी गई है। लोकार्पण के बाद सार्वजनिक रूप से जब म्यूजियम को रविवार को विजिटर के लिए खोला गया तो शाम छह बजे तक 681 विजिटर नहीं संग्रहालय ने विजिट किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended