संजीवनी टुडे

गैंगस्टर विकास दुबे एनकाउंटर/ अंतिम संस्कार के बाद मीडिया पर भड़की पत्नी ऋचा, कहा- जरूरत पड़ी तो अब मैं बंदूक उठाऊंगी

संजीवनी टुडे 10-07-2020 23:02:54

बिकरू गांव में सीओ समेत 8 पुलिस वालों की हत्या करने वाला गैंगस्टर विकास दुबे शुक्रवार सुबह एनकाउंटर में मारा गया। बाद शाम को भैरवा घाट पर गैंगस्टर का अंतिम संस्कार किया गया।


कानपुर। बिकरू गांव में सीओ समेत 8 पुलिस वालों की हत्या करने वाला गैंगस्टर विकास दुबे शुक्रवार सुबह एनकाउंटर में मारा गया। बाद शाम को भैरवा घाट पर गैंगस्टर का अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान उसकी पत्नी ऋचा ने जमकर गाली-गालौच की और कहा कि हां, उसके पति के साथ सही हुआ। विकास की पत्नी ने चिल्लाते हुए तीन बार 'हां' कहा। पति के अंतिम संस्कार में शामिल होने आई पत्नी ऋचा से जब मीडियाकर्मियों ने सवाल पूछने शुरू किए, तब उसने अपना आपा खो दिया। वह चिल्ला-चिल्लाकर कहने लगी कि जो हुआ सही हुआ। 

विकास की पत्नी से जब पूछा गया कि क्या पुलिस ने एनकाउंटर सही किया, तो उसने कहा, 'हां, जिसने गलती की, उसे सजा मिलेगी।' इसके बाद फिर उससे सवाल किया गया कि क्या आप मानती हैं कि आपके पति ने गलती की थी? इसपर ऋचा ने चिल्लाते हुए कहा, 'हां, हां, हां...उसके साथ सही हुआ। यहां से चले जाओ।' इसके बाद पत्नी ऋचा अचानक मीडिया पर भड़क भी गई, सब पर मिलकर पति को मरवाने का आरोप लगाया। जोर-जोर से चिल्ला कर कहा कि तुम सबने मिलकर मेरे पति को मरवा दिया। जिसने जैसा किया है, उसको वैसा ही परिणाम भुगतने तक की धमकी दे दी। रिचा ने कहा कि जरूरत पड़ी तो अब मैं बंदूक उठाऊंगी।

एसपी पूर्वी राजकुमार ने बताया कि विकास के माता-पिता को भी अंतिम संस्कार में शामिल होने को कहा गया था, लेकिन उन्होंने आने से साफ इंकार कर दिया। विकास के शव का पोस्टमार्टम कराने के काफी देर बाद तक पुलिस को शव का कोई दावेदार नहीं मिला। लखनऊ से विकास की पत्नी रिचा, बेटा, मामी व बिकरू से रिश्तेदारी की तीन अन्य महिलाएं पहुंचीं। करीब आधे घंटे में शव का अंतिम संस्कार कराने के बाद रिचा, बेटे व मामी के साथ तीन कारों से लखनऊ रवाना हो गई, जबकि तीन अन्य महिलाएं भी गांव के लिए निकल गईं।

दरअसल, कुख्यात हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे एक आपराधिक किस्म का इंसान था, उसने एक के बाद एक हत्याएं कीं। बता दे, यूपी एसटीएफ की टीम उसे उज्जैन से कानपुर ले जा रही थी, लेकिन शहर से 17 किमी पहले बर्रा थाना क्षेत्र में सुबह 6:30 बजे काफिले की एक गाड़ी पलट गई। विकास उसी में बैठा था। विकास ने गाड़ी पलटने के बाद पुलिस से पिस्टल छीनकर हमला करने की कोशिश की। जवाबी कार्रवाई में वह बुरी तरह जख्मी हो गया, तीन गोली छाती में और एक बांह में लगी। विकास को अस्पताल ले जाया गया, जहां उसे सुबह 7 बजकर 55 मिनट पर मृत घोषित कर दिया। 

विकास दुबे के खिलाफ 60 से ज्यादा हत्या, रंगदारी जैसी संगीन धाराओं में मामले दर्ज हैं, लेकिन राजनीतिक संरक्षण की वजह से विकास के खिलाफ कभी कोई सख्त एक्शन नहीं लिया गया। इस बीच वो कई बार जेल भी गया लेकिन जमानत लेकर बाहर आ जाता था। विकास दुबे ने लूट, फिरौती से अपना साम्राज्य खड़ा कर लिया और दर्जनों गुर्गों को पाल रखा था। साल 2001 में दर्जा प्राप्त राज्यमंत्री संतोष शुक्ला हत्याकांड का मुख्य आरोपी है। इसके अलावा साल 2000 में कानपुर के शिवली थाना क्षेत्र में स्थित ताराचंद इंटर कॉलेज के सहायक प्रबंधक सिद्धेश्वर पांडेय की हत्या में भी विकास का नाम आया था।

कानपुर के शिवली थाना क्षेत्र में ही साल 2000 में रामबाबू यादव की हत्या के मामले में विकास दुबे पर जेल के भीतर रह कर साजिश रचने का आरोप है। यही नहीं साल 2004 में हुई केबल व्यवसायी दिनेश दुबे की हत्या के मामले में भी हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे आरोपी है। इसके अलावा विकास दुबे अजय मिश्रा, कृष्ण बिहारी मिश्रा, कौशल तिवारी और जय प्रकाश की हत्या का आरोपी था। कानपुर के इलाके में विकास का इतना खौफ था कि ज्यादातर लोग उसके खिलाफ कोई गवाही देने या मुकदमा दर्ज करवाने नहीं आते थे। साल 2018 में विकास दुबे ने अपने चचेरे भाई अनुराग पर जानलेवा हमला करवाया था, उसने माती जेल में बैठकर पूरी साजिश रची थी। 

इसके बाद 2 जुलाई की रात को विकास दुबे ने अपने साथियों के साथ मिलकर सीओ देवेंद्र मिश्रा, एसओ महेश यादव, चौकी इंचार्ज अनूप कुमार सिंह, चौकी इंचार्ज नेबू लाल, कान्स्टेबल सुल्तान सिंह, जितेंद्र सिंह, बबलू और राहुल कुमार की हत्या की। छह दिन फरार रहे विकास को गुरुवार को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार किया गया था। विकास के शव से कोरोना की जांच के लिए सैंपल भी लिया गया, जिसकी रिपोर्ट निगेटिव आई है। उधर, कानपुर के एलएलआर हॉस्पिटल के डॉक्टर आरबी कमल ने बताया कि जख्मी तीन पुलिसकर्मियों की हालत स्थिर है।

यह खबर भी पढ़े: रायपुर: आपसी व‍िवाद में दो की हत्‍या, आरोप‍ित फरार

यह खबर भी पढ़े: Crime: 200 फोटो, बीस गैंग और कई बदमाशों को खंगालने के बाद डकैती का खुलासा

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended