संजीवनी टुडे

राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत के बाद शहर में दशहत का माहौल कायम

संजीवनी टुडे 04-04-2020 17:53:55

इस महिला की मौत ने बीकानेर के चिकित्सकों की व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी। संभवता यह पहला ही मामला होगा जब रिपोर्ट से पहले ही मरीज की मौत हो गई है।


बीकानेर। विश्वव्यापी महामारी फैला चुके कोरोना वायरस अब राजस्थान के बीकानेर में जानलेवा साबित हो गया है। जिस महिला को एक अप्रेल को बीमार होने के बाद पीबीएम अस्पताल में भर्ती कराया गया था उसकी मृत्यु होने के बाद चिकित्सकों ने इसकी कोरोना वायरस की जांच कराई। जांच रिपोर्ट शुक्रवार देर रात्रि आई तो सभी के होश उड़ गए। महिला की रिपोर्ट पॉजीटिव आई। कोरोना से महिला की मौत की खबर फैलते ही शहर में दशहत का माहौल कायम हो गया है। एहतिहात के तौर पर पुलिस ने महिला के मकान सहित आस पास के इलाकों को सील कर दिया है। 

मृतक महिला की रिपोर्ट पोजिटिव हरकत में आये शासन प्रशासन के निर्देश पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग की टीमें सीएमएचओ की अगुवाई में देर रात ही उस क्षेत्र में पहुंच गई, जहां मृतक महिला रहती थी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डा बी एल मीणा ने बताया कि पीबीएम अस्पताल में 60 वर्षीय महिला की मौत हुई है। उसके रिश्तेदारों व संपर्क में आए 25 जनों को शनिवार सुबह पांच बजे पीबीएम अस्पताल के क्वारेंटाइन आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया है। उन्होंने बताया कि हालांकि वह महिला पैरेलाइसिस से भी ग्रसित थी।

रातों रात ही करवा दिया सुपुर्दे खाक
पीबीएम अस्पताल में भर्ती एक महिला मरीज की शुक्रवार शाम को इलाज के दौरान मौत हो गई। अस्पताल सूत्रों के अनुसार संक्रमित महिला की मौत के मामले में चौंकाने वाली खबर यह भी है कि पीबीएम अस्पताल में शुक्रवार की रात दौराने इलाज उसकी मौत हो जाने के बाद परिजनों और समाज के लोगों ने उसका शव सुपुर्दे खाक कर दिया। हालांकि प्रशासन का दावा है कि मृतका के शव का अंतिम संस्कार कोरोना आपदा की एडवाइजरी के तहत किया गया है। अंतिम संस्कार में जो बीस लोग शामिल थे उनको भी आईसोलेट कर दिया गया है। सूत्रों ने बताया है कि कोरोना संक्रमित मृतक महिला के अंतिम संस्कार में गाईडलाइन की पालना नहीं की गई है। कायदे से मेडिकल और पुलिस टीम की मौजूदगी में उसका अंतिम संस्कार किया जाना था।

रिपोर्ट से पहले ही महिला की मौत
इस महिला की मौत ने बीकानेर के चिकित्सकों की व्यवस्था की पोल खोल कर रख दी। संभवता यह पहला ही मामला होगा जब रिपोर्ट से पहले ही मरीज की मौत हो गई है। साथ ही चिकित्सकों को यह भी समझ नहीं आ रहा है कि अब करना क्या है क्योंकि इस बीमारी से मरने वालों के लिए गाइडलाइन ही अलग है। बताया जाता है कि तब्लीगी जमात से संपर्क रखने वाला मृतक महिला का पति पिछले दिनों इंदौर जाकर आया था, विगत दिनों बीकानेर आये तब्लीगी जमात के लोग के साथ उसका मस्जिद में आना जाना था। मृतका के घर परिवार के अन्य लोग भी तब्लीगी जमात के संपर्क थे। महिला की मौत के बाद चिकित्सा विभाग की टीम एहतिहात के तौर पर महिला के परिवार और उनसे संपर्क रखने वालों की कड़ी से कड़ी जोड़ कर चिकित्सा जांच में जुटी है।

यह खबर भी पढ़े: BHEL ने विकसित की इलेक्ट्रोस्टेटिक डिसइंफेक्शन मशीन, कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने में निभाएगी भूमिका

यह खबर भी पढ़े: राजस्थान में कोरोना पॉजिटिव महिला की मौत के बाद शहर में दशहत का माहौल कायम

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended