संजीवनी टुडे

प्रशासन नशा पीड़ित महिला का घर पर ही करेगा उपचार: ढिल्लो

इनपुट-यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 28-08-2019 21:54:45

जिला प्रशासन ने जंजीरों से बांध कर रखी नशा पीड़ित महिला का उसके घर पर ही इलाज करवाने का फैसला किया है।


अमृतसर। पंजाब में अमृतसर के जिला प्रशासन ने जंजीरों से बांध कर रखी नशा पीड़ित महिला का उसके घर पर ही इलाज करवाने का फैसला किया है। जिला उपायुक्त शिवदुलार सिंह ढिल्लो ने बुधवार को बताया कि रणजीत एवेन्यू इलाके में रहने वाली नशा पीड़ित महिला को उसके माता-पिता ने उसे घर में कैद करके रखा हुआ है। प्रशासन ने नशा मुक्ति केन्द्र के डाक्टर पी डी गर्ग को उसका घर पर ही इलाज करने का आदेश दिया गया है। डॉक्टरों की एक टीम को इलाज करने के लिए प्रतिदिन पीड़ित के घर पर भेजा जाए ताकि उसे नशा मुक्त किया जा सके।

यह खबर भी पढ़ें: अलीम को माता-पिता से मिलाने का कश्मीर पुलिस को निर्देश

उपजिलाधिकारी -2 श्री शिवराज सिंह बल्ल, स्वामी विवेकानन्द नशा मुक्ति केंद्र के प्रभारी डाॅ. पी. डी. गर्ग ने बताया कि उक्त महिला काे इलाज के लिए कुछ समय पहले नशा मुक्ति केंद्र में दाख़िल कराया गया था, लेकिन नशा ने छूटने के कारण वह फिर से नशे की गिरफ्त में आ गयी। उन्होंने बताया कि उसको फिर स्वामी विवेकानन्द केंद्र में भर्ती करवाने के लिए उसके माता-पिता को कहा गया। लेकिन उनके राजी नहीं होने पर प्रशासन ने डाॅ. गर्ग को हिदायत की कि वह लड़की का उसके घर पर ही इलाज करें।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

पीड़िता के परिजनों अनुसार महिला के पति ने ही उसे नशे की लत लगाई थी और बाद में तलाक दे दिया। नशे की आदि होने के कारण उनके घर का सारा सामान बिक गया था जिसके कारण उन्होंने इलाज के लिए महिला को कई बार नशा मुक्ति केन्द्र में भर्ती करवाया लेकिन वह वहां से भाग जाती थी। नशे की लत के कारण उसके माता-पिता ने उसे जंजीरों में बांध दिया था। ताकि वह अपने आप को कोई नुकसान नहीं पहुंचा सके।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended