संजीवनी टुडे

राष्ट्रपति से लेकर पार्षद तक का चुनाव लड़ने वालें इस युवक पर लगा धोखाधड़ी का आरोप, गिरफ्तार

संजीवनी टुडे 21-08-2019 17:07:01

नरेंद्र नाथ दुबे उर्फ अडिग देश के राष्ट्रपति से लेकर उपराष्ट्रपति और तो और पार्षद स्तर तक का चुनाव लड़ने के लिए सुर्खियों में रह चुका है।


नई दिल्ली। दिल्ली पुलिस ने धोखाधड़ी के मामले में एक ऐसे युवक को गिरफ्तार किया है, जिसके बारे में जानकर हर कोई दंग रहा गया। इस युवक का नाम नरेंद्र नाथ दुबे उर्फ अडिग है। पुलिस ने इसको धोखाधड़ी समेत अन्य मामलों में गिरफ्तार किया है। 

यह खबर भी पढ़े: INX मीडिया केस: राहुल- प्रियंका ने मोदी सरकार पर बोला तीखा हमला, ऐसे किया चिदंबरम का बचाव

आखिर इस शख्स की गिरफ्तारी में हैरानी की क्या बात है? दरअसल, यह शख्स राष्ट्रपति से लेकर पार्षद तक का चुनाव लड़ चुका है। नरेंद्र नाथ दुबे उर्फ अडिग देश के राष्ट्रपति से लेकर उपराष्ट्रपति और तो और पार्षद स्तर तक का चुनाव लड़ने के लिए सुर्खियों में रह चुका है। 

दिल्ली ले जाने से पहले अडिग को वाराणसी में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट राजीव कुमार की अदालत में पेश किया गया। नई दिल्ली की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) के उपनिरीक्षक के आवेदन पर अडिग को ट्रांजिट रिमांड पर सौंप दिया गया है।  अडिग को 22 अगस्त तक नई दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में पेश किया जाना है। 

सूत्रों के मुताबिक, अडिग 1984 से ही पार्षद, एमएलए, एमएलसी, सांसद, उप-राष्ट्रपति और राष्ट्रपति तक का चुनाव लड़ चुके हैं। 2012 में उप राष्ट्रपति चुनाव में अडिग ने 40 सांसदों द्वारा साइन किया गया नामांकन पत्र दाखिल किया गया था।  लेकिन जांच में नामांकन पत्र फर्जी पाया गया। पत्र में 20 सांसदों को प्रस्तावक और 20 सांसदों को समर्थक बताया गया था। लेकिन एक सांसद पूनम प्रभाकर ने नामांकन पत्र की जांच में अपना हस्ताक्षर होने से इनकार किया था तो अन्य सांसदों के हस्ताक्षर भी फर्जी पाए गए। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

इस मामले के बाद पूनम प्रभाकर ने 2012 में दिल्ली के ईओडब्ल्यू थाने (आर्थिक अपराध शाखा) में एक अडिग के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। दिल्ली पुलिस ने आईपीसी की धारा 420 467 468 471 511 और 174a के तहत मामला दर्ज किया है। 13 दिसंबर 2012 को मुकदमा दर्ज कराया गया था। साल 2016 में इस मामले में चार्जशीट भी दाखिल हुई थी और अडिग के खिलाफ गैर जमानती वारंट भी जारी हुआ था। तभी से फरार चल रहे अडिग के खिलाफ कोर्ट ने सीआरपीसी की धारा 82 और 83 के अंतर्गत कार्रवाई की थी।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended