संजीवनी टुडे

महिला उद्यमी मेला सह रोजगार मेला में 842 प्रशिक्षुओं को मिला जॉब लेटर

संजीवनी टुडे 22-02-2020 21:19:13

महिलाओं के सामाजिक आर्थिक और सांस्कृतिक सशक्तिकरण व महिला उद्यमियों द्वारा उत्पादित सामग्रियों की प्रदर्शनी और बिक्री के लिए लगाये गये मेले में राज्य के अलग-अलग जिलों से आई लड़कियों का जोश देखते बन रहा था।


पटना। महिला उद्यमी मेला सह रोजगार मेला के दूसरे दिन शनिवार को देशभर से आयीं 32 नियोक्ता संस्थानों महिला विकास निगम ने लगभग 700 महिलाओं औऱ किशोरियों के साक्षात्कार का आयोजन किया। सेवा प्रक्षेत्र के अंतर्गत कुल 12 प्रशिक्षण प्रदाता संस्थाओं ने 7 प्रक्षेत्रों के 13 कोर्सों में कुल 542 बैच में 14,136 महिलाओं और किशोरियों को प्रशिक्षित किया।

इनमें 7,323 प्रशिक्षुओं को मूल्यांकन के बाद प्रमाण पत्र दिये गये। जॉब फेयर में दो दिनों में कुल 842 प्रशिक्षुओं को विभिन्न विधाओं में जॉब लेटर दिया गया। मेला के पहले दिन सांस्कृतिक संध्या का आयोजन हुआ। इसमें दुर्गापुर से आये विनय राय ने अपने गीतों से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया तथा राकेश एंड ग्रुप ने देशभक्ति नृत्य नाटिका की प्रस्तुति ने लोगों का मन मोह लिया। मेला में सबसे ज्यादा आकर्षण का केंद्र सेल्फी प्वाइंट रहा। वहां हर उम्र के लोग सेल्फी लेते दिखे। साथ ही पालनाघर और उसमें रखे खिलौने बच्चों को अपनी ओर आकर्षित कर रहे हैं। 

महिलाओं के सामाजिक, आर्थिक और सांस्कृतिक सशक्तिकरण व महिला उद्यमियों द्वारा उत्पादित सामग्रियों की प्रदर्शनी और बिक्री के लिए लगाये गये मेले में राज्य के अलग-अलग जिलों से आई लड़कियों का जोश देखते बन रहा था। उनका कहना था कि इस प्रकार के मेले में अपने जिला से बाहर जाने का उनका पहला अनुभव है। हमें यह प्रशिक्षण महिला विकास निगम ने दिया। इस दौरान बताया गया कि प्रशिक्षण के बाद रोजगार भी उपलब्ध कराया जायेगा।

पटना सिटी के गाय घाट की रहने वाली पार्वती, बबीता और सुनीता देवी ने कहा कि जब सिलाई का प्रशिक्षण ले रही थी तो विश्वास नहीं था कि महिला विकास निगम मदद करेगा और इतनी जल्दी जॉब मिल जायेगा। उन्होंने बताया कि लुधियाना की बर्धमान कम्पनी में उन्हें काम मिला है। औरंगाबाद की  डौली कुमारी और रोहतास की सुमन कुमारी को वेलस्पुन कंपनी ने ऑफर दिया। छपरा की विजया कुमारी को भीमा बाजार ने अपनी कंपनी में जॉब आफर किया है। नालंदी की नाजिला को केकेपी मिल्स से ऑफर लेटर मिला है।

मेला का संयोजन कर रहे निगम के एक अधिकारी ने बताया कि राज्य भर से आईं लगभग 150 महिला उद्यमियों ने पहले दिन ढाई लाख की सामग्री की बिक्री की गई। सबसे ज्यादा हस्तकरघा उत्पादों और स्वास्थ्य संबंधी सामग्रियों की बिक्री हुई। मेला में मधुबनी पेंटिंग, सुजनी, एपलीक से संबंधित 25, डिजायनर, खादी सहित अन्य हस्तनिर्मित वस्त्रों के 21, आर्टिफिसियल ज्वेलरी के 10, क्रोसिया के तीन, गृह सज्जा के 18, घरेलू उपयोग की सामग्री के 9, आईटी से संबंधित एक, जूट क्राफ्ट के चार, मंजूसा, सिकी और प्लांट के 1-1, टेराकोटा और टिकुली आर्ट के 2-2, जीविका और उपेंद्र महारथी संस्थान के 3-3, खादी ग्रामोद्योग के 2, महिला विकास निगम की पोषित सहकारी समितियों के 5 सहित हस्तकरघा उत्पादों के 8 स्टॉल लगाये गये है। मेला में एक स्टॉल किताब का भी है।  

यह खबर भी पढ़ें:​ यूपी/ दोहरे हत्याकांड में सगा भाई गिरफ्तार, जमीन के लालच में की घिनौनी वारदात

जयपुर में प्लॉट मात्र 289/- प्रति sq. Feet में  बुक करें 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From state

Trending Now
Recommended