संजीवनी टुडे

आपातकाल के 44 साल: जेल जाने के डर से देवर ने नहीं पूछा हाल चाल : तारा अग्रवाल

संजीवनी टुडे 25-06-2019 22:48:50

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल की मां और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की कार्यकर्ता को आज से 44 वर्ष पूर्व सिर्फ इसलिए दिल्ली के तिहार जेल में बंद कर दिया गया क्योंकि उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के खिलाफ चांदनी चौक पर नारे लगाए थे।


नोएडा। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय प्रवक्ता गोपाल कृष्ण अग्रवाल की मां और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ की कार्यकर्ता को आज से 44 वर्ष पूर्व सिर्फ इसलिए दिल्ली के तिहार जेल में बंद कर दिया गया क्योंकि उन्होंने तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के खिलाफ चांदनी चौक पर नारे लगाए थे।

उस काले दिन को याद करते हुए तारा अग्रवाल कहती है कि मुझे और मेरे आठ वर्ष के बेटे गोपाल को दो महीने जेल में बिताना पड़ा था। पहले मेरे बेटे को जेल जेल ले गए फिर मुझे स्कूटर पर जेल ले गए। पुलिस ने जेल ले जाते समय सरकारी गाड़ी का प्रयोग नहीं किया क्योंकि सब जान जाते की तारा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। 

तारा बताती है कि तिहार जेल में मेरी तबियत खराब हो गयी। मेरे इलाज के लिए डॉक्टर को बुलाया गया। उस वक्त तिहार जेल में डॉक्टर मेरे देवर थे। उन्होंने मेरी हालचाल तक नहीं पूछी क्योंकि उन्हें पता था कि आपातकाल के समय पकड़े गए कैदियों से हालचाल पूछने पर उन्हें भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा। उस दौरान मेरी, मेरे पति और मेरे बेटे की गलती सिर्फ इतनी थी कि वो स्वयं सेवक थे। वो बताती है कि मेरा बेटा मात्र आठ वर्ष का था उस बाल काल में पुलिस ने उसकी बेरहमी से पिटाई की। जेल में हमने यातनाएं सही क्योंकि हमें उस अत्याचारी सरकार के खिलाफ लड़ना था।  

मात्र 260000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

More From state

Trending Now
Recommended