संजीवनी टुडे

मल्हनी विधानसभा उपचुनाव में लगेगी 2 EVM: नीतीश कुमार

संजीवनी टुडे 21-10-2020 15:34:13

मल्हनी विधानसभा उपचुनाव में नामवापसी की अंतिम तिथि में दो प्रत्याशियों ने पर्चा वापस ले लिया।


जौनपुर। मल्हनी विधानसभा उपचुनाव में नामवापसी की अंतिम तिथि में दो प्रत्याशियों ने पर्चा वापस ले लिया। इससे पूर्व चार प्रत्याशियों का पर्चा खारिज कर दिया गया था। अब मल्हनी विधानसभा क्षेत्र में 16 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं। इसलिए विधानसभा क्षेत्र में ईवीएम यानि एक कंट्रोल यूनिट से दो बैलेट यूनिट को जोड़ना होगा। 

यह फैसला जिला मजिस्ट्रेट/जिला निर्वाचन अधिकारी द्वारा प्रत्याशियों के पर्चा वापसी के बाद लिया गया है। इससे जिला निर्वाचन विभाग का सिरदर्द बढ़ गया है, वहीं मतदान कार्मिकों को अधिक भार उठाना पड़ेगा। इलेक्ट्रानिक वोटिग मशीन (ईवीएम) संग बैलेट यूनिट व कंट्रोल यूनिट होती है। बैलेट यूनिट पर ही प्रत्याशियों के नाम अंकित होते हैं। 

एक बैलेट यूनिट पर 16 खाने होते हैं, जिनमें प्रत्याशियों के नाम लिखे जा सकते हैं, लेकिन नोटा आने के कारण इसकी संख्या अब घटकर 15 रह गई है। मसलन नोटा के अलावा एक बैलेट यूनिट पर सिर्फ 15 प्रत्याशियों के नाम अंकित होंगे। हालांकि आयोग की गाइडलाइन के तहत स्पष्ट है कि एक विधानसभा क्षेत्र में एक कंट्रोल यूनिट संग अधिकतम चार बैलेट यूनिट जोड़कर चुनाव कराया जा सकता है। अधिकतम 63 से ज्यादा प्रत्याशी नहीं होने चाहिए। इससे अधिक होने पर बैलेट बाक्स यानि पुरानी व्यवस्था से चुनाव कराने की संभावना प्रबल हो जाती है।

इस मामले में रिटर्निंग अधिकारी नीतीश कुमार ने बताया कि मल्हनी विधानसभा में इस तरह की नौबत नहीं आई है। मल्हनी में 554 बूथों पर ईवीएम बैलेट यूनिट दो लगाने के कारण इनकी संख्या 1108 हो गई है तो कंट्रोल यूनिट 554 व वीवीपैट 554 लगाई जाएंगी। इसके अतिरिक्त 10 फीसद अतिरिक्त मशीनों को रिजर्व रखा जाएगा। जिससे कही किसी मशीन में गड़बड़ी होने पर तुरंत दूसरी मशीन लगाया जा सके।

यह खबर भी पढ़े: राज्य बीमा एवं प्रावधायी निधि विभाग में लागू होगी पेपरलैस व्यवस्था, 10 लाख पेपर की होगी सालाना बचत

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From state

Trending Now
Recommended