संजीवनी टुडे

कुश्ती: फौगाट बहनों ने जीते तीन गोल्ड सहित 4 मेडल

संजीवनी टुडे 18-12-2017 05:48:00

नई दिल्ली। दक्षिण अफ्रीका के जोहानसबर्ग में चल रही राष्ट्रमंडल कुश्ती प्रतियोगिता में दादरी जिले के गांव बलाली निवासी ओलंपियन फौगाट बहनों ने एक बार फिर से देश का झंडा विदेशी धरती पर बुलंद किया है। महिला पहलवान गीता फौगाट, रितू फौगाट व विनेश फौगाट ने अफ्रीका में आयोजित कॉमनेवल्थ रेसलिंग चैंपियनशिप में तीन गोल्ड और एक सिल्वर पदक हासिल करने पर गांव बलाली निवासी उनके कोच महाबीर फौगाट और ग्रामीणों ने खुशी जताई है। 

ये भी पढ़े: Video: इस एक्टर के अन्नपूर्णा स्टूडियो में लगी आग, दो तेलुगू फिल्मों के सेट हुए खाक

उन्होंने बताया कि 14 से 17 दिसंबर तक अफ्रीका में कॉमनवेल्थ रेसलिंग चैंपियनशिप में ओलंपियन पहलवान गीता, विनेश, रीतू व संगीता ने भाग लिया। इन चारों बहनों ने चैंपियनशिप में उम्दा प्रदर्शन करते हुए चार पदकों पर कब्जा जमाया। पहली भारतीय ओलंपिक महिला पहलवान गीता फौगाट ने शादी के बाद कुछ समय का ब्रेक लेकर दोगुने जोश के साथ राष्ट्रमंडल खेलों की तैयारियां शुरू कर दी थी। लंबे समय के बाद स्वर्ण पदक जीतने के लिए गीता घंटों अपना पसीना बहा रही थी, कोच महाबीर ने बताया कि गीता ने इस चैंपियनशिप में 59 किलोग्राम भार वर्ग में गोल्ड मेडल हासिल किया है। 


इसी प्रकार ओलंपियन पहलवान विनेश ने 55 किलोग्राम भार वर्ग में गोल्ड और रीतू ने 50 किलोग्राम भार वर्ग में गोल्ड मेडल जीता है, संगीता को सिल्वर पदक मिला है। खास बात यह है कि गत दिनों रियो ओलंपिक में बुरी तरह चोटिल होने के बावजूद विनेश ने अपना हौसला नहीं खोया। रितू फौगाट ने भी 50 किलोग्राम भार वर्ग में अपनी बहनों के नक्शे कदम पर चलते प्रतिद्वंदी पहलवान को ढ़ेर कर स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया

महाबीर फौगाट ने कहा कि पहलवान गीता का जज्बा कम नहीं हुआ है। उनका कहना है कि उनकी बेटी संगीता ने कॉमनवेल्थ रेसलिंग चैंपियनशिप में सिल्वर पदक जीतकर बड़ी उपलब्धि दर्ज करवाई है। संगीता की ओर से कुश्ती खेल में अभी शुरुआत ही है। उन्होंने कहा कि इन खिलाड़ियों के लिए ही नहीं देश के लिए यह बड़ी उपलब्धि है, रियो की कसर राष्ट्रमंडल में पूरी करने के लिए वह कड़े अभ्यास में जुटी हुई थी। 

ये भी पढ़े: VIDEO: रोहिणी कोर्ट में हुई फायरिंग में कैदी की मौत, हमलावर ने किया सरेंडर

अंडर 23 आयु वर्ग चैंपियनशिप के 48 किलोग्राम भार वर्ग में देश को रजत पदक दिलाने वाली रितू फौगाट पहली महिला पहलवान बनी थी। इसके अलावा प्रो कुश्ती लीग, पीडब्ल्यूएल दूसरे संस्करण के लिए पहलवानों की नीलामी में रितू फौगाट ने ओलंपिक पदक विजेता साक्षी मलिक को भी मात दे दी थी। 

Rochak News Web

More From sports

Trending Now
Recommended