संजीवनी टुडे

गंभीर का बड़ा खुलासा, कहा- 'धोनी ने अपनी कप्तानी में सचिन, वीरू और मेरे को ऐसी बात कहकर किया था ड्रॉप

संजीवनी टुडे 20-07-2019 22:02:12

गंभीर ने कहा कि यह सही समय है जब भावनाओं में बहकर नहीं व्यावहारिक निर्णय लिया जाना चाहिए।


नई दिल्ली। आईसीसी वर्ल्ड कप के बाद लगातार महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास पर चर्चा  हो रही। इस बीच अब टीम इंडिया के पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने भी महेंद्र सिंह धोनी के संन्यास पर हो रही चर्चा पर अपना विचार रखा है।

गंभीर ने राजनीति का रुख जरूर कर लिया है लेकिन वो क्रिकेट से जुड़े अहम मुद्दों पर अपना पक्ष रखते रहते हैं। विश्व कप 2019 के बाद से लगातार इस पर चर्चा हो रही है कि महेंद्र सिंह धोनी कब तक इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास लेंगे। वीरेंद्र सहवाग के बाद अब गौतम गंभीर ने भी इस पर अपना पक्ष रखा है।

Image

धोनी फिलहाल 38 साल के हो चुके हैं और कई दिग्गज क्रिकेटरों का मानना है कि अब उन्हें इंटरनेशनल क्रिकेट से अलविदा कह देना चाहिए। बीते विश्व कप में टीम इंडिया सेमीफाइनल तक पहुंची, लेकिन इस दौरान धोनी को धीमी बल्लेबाजी को लेकर काफी आलोचनाओं का सामना करना पड़ा। धोनी ने 9 मैचों में 273 रन बनाए, लेकिन इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट महज 87.78 रहा। 

Image

गंभीर ने एक न्यूज चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि जब धोनी टीम के कप्तान थे तो उन्होंने भविष्य के क्रिकेटरों पर निवेश किया। अब धोनी का क्रिकेट को अलविदा कहने का वक्त आ गया है। ऐसे में टीम इंडिया को अब नए क्रिकेटरों को ग्रूम करना चाहिए। 

गंभीर ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच 2012 की सीबी सीरीज का जिक्र करते हुए कहा कि धोनी चाहते थे कि सचिन, गंभीर और सहवाग को ड्रॉप किया जाए, क्योंकि उनकी फिटनेस और फील्डिंग अच्छी नहीं थी। तब हुआ भी ऐसा ही। अब एक बार फिर से बदलाव का वक्त है। गंभीर ने कहा कि यह सही समय है जब भावनाओं में बहकर नहीं व्यावहारिक निर्णय लिया जाना चाहिए। 

Image

गौतम गंभीर ने एक टीवी शो पर कहा, यह अहम है कि हम भविष्य की तरफ देखें, जब धोनी कप्तान थे तो उन्होंने भी भविष्य के खिलाड़ियों पर ही भरोसा किय़ा था। मुझे याद है धौनी ने मुझसे, सचिन से और सहवाग से कहा था कि आप सीबी सीरीज नहीं खेल सकते क्योंकि मैदान बड़ा है। वह विश्व कप के लिए युवा खिलाड़ियों को चाहते थे। इसलिए यह भावनाओं में बहने का नहीं व्यावहारिक निर्णय लेने का समय है। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब बटन

 

उन्होंने कहा, अब यह युवा खिलाड़ियों को तैयार करने का समय है। जिसमें भी काबिलियत दिखाई दे उसे विकेटकीपर का मौका मिलना चाहिए। विश्व कप 2019 में सेमीफाइनल में बाहर होने के बाद अब सारा फोकस वेस्टइंडीज दौरे पर है। यह दौरा 3 अगस्त से शुरू हो रहा है। इस दौरे के लिए 20 या 21 जुलाई को टीम चुनी जाएगी।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From sports

Trending Now
Recommended