संजीवनी टुडे

क्रिकेट जगत में छाया मातम, दिल का दौरा पड़ने से पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज का निधन

संजीवनी टुडे 16-08-2019 10:13:49

छह दिन बाद यानी 21 अगस्त को अपना जन्मदिन मनाते लेकिन 58 साल की उम्र वह इस दुनिया को अलिवदा कहकर चले गए।


डेस्क। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज और राष्ट्रीय चयनकर्ता वीबी चंद्रशेखर का गुरुवार को चेन्नई में दिल का दौरा पड़ने की वजह से निधन हो गया है। वह छह दिन बाद यानी 21 अगस्त को अपना जन्मदिन मनाते लेकिन 58 साल की उम्र वह इस दुनिया को अलिवदा कहकर चले गए।

यह खबर भी पढ़े: कोलकाता नाइटराइडर्स ने टीम के लिए 5 सीजन खेलने वाले मैकुलम को बनाया मुख्य कोच

क्रिकेट जगत में छाया मातम, दिल का दौरा पड़ने से पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज का निधन

तमिलनाडु के इस पूर्व बल्लेबाज का छह दिन बाद 58वां जन्मदिन था। उनके परिवार में पत्नी और दो बेटियां हैं। चंद्रशेखर ने 1988 से 1990 के बीच सात वनडे खेले थे जिनमें उन्होंने 88 रन बनाये थे लेकिन घरेलू स्तर पर उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया तथा 81 मैचों में 4999 रन बनाये जिसमें नाबाद 237 रन उनका उच्चतम स्कोर रहा। 

क्रिकेट जगत में छाया मातम, दिल का दौरा पड़ने से पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज का निधन

चंद्रशेखर ने 81 प्रथम श्रेणी मैचों में 43.09 की औसत से 4999 रन बनाए और उन्होंने इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) फ्रेंचाइजी चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के प्रबंधक के रूप में भी काम किया है. जब ग्रेग चैपल टीम इंडिया के मुख्य कोच थे तो उस समय चंद्रशेखर राष्ट्रीय चयनकर्ता की टीम में भी थे। 

क्रिकेट जगत में छाया मातम, दिल का दौरा पड़ने से पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज का निधन

जब ग्रेग चैपल भारतीय टीम के कोच थे तब वह राष्ट्रीय कोच भी रहे। बाद के वर्षों में उन्होंने घरेलू क्रिकेट में कमेंट्री भी की। वीबी राष्ट्रीय स्तर पर तब पहचान में आए जब उन्होंने 1988 में ईरानी ट्रॉफी में 56 गेंदों पर 100 रन बना दिए। एमए चिदंबरम स्टेडियम में खेले गए इस मुकाबले में उन्होंने 119 रन बनाए थे। 

df

उन्होंने घरेलू क्रिकेट में कमेंट्री भी की और साल 1988-89 सीज़न में ईरानी कप खेल में शेष भारत के खिलाफ तमिलनाडु के लिए खेलते हुए 56 गेंदों का शतक बनाया। उन्होंने कुछ साल पहले तक रणजी ट्रॉफी में सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया था।

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

 

उनकी इस पारी ने तमिलनाडु को शेष भारत के खिलाफ जीत हासिल करने में मदद की। यह लंबे समय तक भारत के घरेलू क्रिकेट में सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड रहा जिसे आखिर में 2016 में ऋषभ पंत ने 2016 में 48 गेंदों पर शतक बनाकर तोड़ा।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From sports

Trending Now
Recommended