संजीवनी टुडे

वन रेस सुपरसिख दौड़ का आयोजन 8 दिसंबर को

इनपुट- यूनीवार्ता

संजीवनी टुडे 20-11-2019 04:01:00

हीरो इलेक्ट्रिक वन रेस सुपरसिख हाफ मैराथन दौड़ के चौथे संस्करण का आयोजन आठ दिसंबर को राजधानी में आयोजित किया जाएगा।


नई दिल्ली। हीरो इलेक्ट्रिक वन रेस सुपरसिख हाफ मैराथन दौड़ के चौथे संस्करण का आयोजन आठ दिसंबर को राजधानी में आयोजित किया जाएगा।

भारत की प्रसिद्ध इलेक्ट्रिक कंपनी हीरो इलेक्ट्रिक के प्रबंध निदेशक नवीन मुंजाल ने मंगलवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में इसकी घोषणा की। इस समारोह में आयोजन के मुख्य इंस्पिरेशन ऑफिसर कारगिल युद्ध के वीर मेजर डीपी सिंह और अर्जुन पुरस्कार से सम्मानित मुक्केबाज मनदीप जांगड़ा मौजूद थे।

यह खबर भी पढ़ें:​ कांग्रेस ने उठाया गाँधी परिवार की सुरक्षा घटाने का मुद्दा, लोकसभा से बहिर्गमन

वन रेस सुपरसिख रन एक सेवा प्रेरित प्रोफेशनल प्रबंधित हाफ मैराथन है। वर्ष 2016 में इसकी शुरुआत हुई थी और इस वर्ष चौथा सुपरसिख मैराथन का आयोजन किया जा रहा है। इस वर्ष इस मैराथन में महिलाओं तथा पुरुषों सहित 7000 से ज्यादा धावक इसमें हिस्सा लेंगे। इसके अलावा कई दिव्यांग प्रतिभागी भी इस दौड़ का हिस्सा होंगे।

युवा एथलीटों की प्रतिभा को प्रेरित करने के लिए हीरो इलेक्ट्रिक ने सुपरसिख फाउंडेशन के साथ एक प्रोजेक्ट की शुरुआत की है जिसके तहत पुरुष प्रतिभागियों को 10 किलोमीटर की दौड़ 30 मिनट की सीमा के अंदर तथी महिलाओं की 35 मिनट के अंदर दौड़ पूरी करने पर हीरो इलेक्ट्रिक ऑप्टिमा पुरस्कार के तौर पर दी जाएगी।

यह खबर भी पढ़ें:​ स्किनफिट ड्रेस में काइली जेनर ने ढाया कहर, तस्वीरों ने बढ़ाया इंटरनेट का तापमान

हीरो इलेक्ट्रिक के प्रबंध निदेशक मुंजाल ने कहा, “सुपरसिख रन हर व्यक्ति के लिए खास है। यह दुनिया में अपनी तरह की सबसे अलग एवं सांस्कृतिक रुप से संपन्न दौड़ है और हमें इसका हिस्सा बनने की खुशी है। इस वर्ष भारत में ई-मोबिलिटी में अग्रणी रहते हुए हमारा उद्देश्य ना केवल दौड़ का समर्थन करना है बल्कि पर्यावरण का संरक्षण करने में अपना योगदान देना भी है।”

मेजर डीपी सिंह ने कहा, “इस दौड़ के साथ जुड़कर खुश हूं। सुपरसिख दौड़ जाति, धर्म, लिंग तथा जीवन की चुनौतियां की कमजोर बाधाओं से परे हर प्रतिभागी के लिए आयोजित होने वाली मैराथन है। हमें उम्मीद है कि पिछले साल की तुलना में इस वर्ष ज्यादा से ज्यादा लोग इसमें हिस्सा लेंगे। इसके अलावा दिव्यांग प्रतियोगी भी ज्यादा संख्या में इसमें हिस्सा लेंगे।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल पर जुड़ें

More From sports

Trending Now
Recommended