संजीवनी टुडे

अब टेस्ट क्रिकेट में भी मिलेगी नो-बॉल पर फ्री हिट, जानिए नए नियम

संजीवनी टुडे 14-03-2019 11:43:16


डेस्क। सीमित ओवरों की क्रिकेट में नो-बॉल करने पर फ्री हिट मिलती है। इसके तहत नो बॉल के बाद अगली गेंद पर बल्लेबाज़ को फ्री हिट मिलती है, यानी अगर वो आउट भी हो जाते हैं तो वो मान्य नहीं होता है। लिहाजा फ्री हिट पर बल्लेबाज़ बड़ा शॉट खेलने की कोशिश करते हैं जो कि हमेशा मैच में रोमांच लाता है।  

dfg

नो बॉल पर किसी भी टीम को एक बार में दो फायदे मिलते हैं। पहला पेनल्टी के तौर पर एक रन और फिर बल्लेबाज़ को फ्री हिट। नो बॉल पर फ्री हिट का इस्तेमाल वनडे और टी-20 में हो रहा है। लेकिन अब एमसीसी विश्व क्रिकेट समिति ने टेस्ट क्रिकेट में भी नो-बॉल पर फ्री हिट लागू करने की सिफारिश की है। 

dfg

क्रिकइंफो की रिपोर्ट के अनुसार, इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइक गेटिंग की अध्यक्षता वाली समिति ने पिछले सप्ताह यहां हुई बैठक में टेस्ट क्रिकेट में कुछ बदलाव करने का सुझाव अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट समिति को दिया। समिति ने अपने सुझाव में टेस्ट क्रिकेट में नो-बॉल पर फ्री हिट लागू करने के अलावा समय बर्बाद होने से रोकने के लिए 'शॉट क्लॉक' लगाने और विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप के लिए मानक गेंद का इस्तेमाल करने का भी सुझाव दिया है।  मात्र 240000/- में टोंक रोड जयपुर में प्लॉट 9314166166

 

dfg

समिति की बैठक में पूर्व भारतीय कप्तान सौरभ गांगुली, टिम मे, विंसे वान डेर बिज, शाकिब अल हसन, शेन वॉर्न और कुमार संगकारा भी शामिल थे। समिति ने पाया कि सीमित ओवरों की क्रिकेट में नो-बॉल करने पर फ्री हिट सफल रही है और टेस्ट क्रिकेट में भी नो बाल को खत्म करने के लिए इसे आजमाया जाना चाहिए।

MUST WATCH & SUBSCRIBE

 

वॉर्न ने कहा कि नो-बॉल पर फ्री हिट टी-20 और वनडे मैचों के लिए है तो टेस्ट क्रिकेट में क्यों नहीं? यह वास्तव में नो-बॉल को रोकने में मदद करता है। उदाहरण के रूप में देखे तो इंग्लैंड ने तीन साल बाद पहली बार वनडे में अपनी पहली नो-बॉल फेंकी, गेंदबाज इसके प्रति सतर्क रहता है क्योंकि इस पर फ्री हिट मिलती है।

More From sports

Loading...
Trending Now
Recommended