संजीवनी टुडे

अब केन विलियमसन ने दिया विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को बड़ा बयान, जानिए क्या कहा?

संजीवनी टुडे 14-08-2019 09:36:55

विलियमसन का मानना है कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने की कवायद से भविष्य की टेस्ट श्रृंखलाएं अधिक प्रतिस्पर्धी हो जाएंगी।


डेस्क। हाल ही में पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज जहीर खान ने आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को लेकर बड़ा बयान दिया था, जिसमे उन्होंने कहा था कि यह अच्छा है कि हमें आखिरकार टेस्ट क्रिकेट में विश्व कप जैसा प्रारूप मिला है। लेकिन अभी भी इस फार्मेट में सुधार की बहुत सारी आवश्यकता है। अब न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियमसन ने भी इस टूर्नामेंट को लेकर बड़ा बयान दिया है। 

यह खबर भी पढ़े: INDvsWI 3rd ODI: वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज का आखिरी वन-डे आज, ऐसा हो सकता है भारत का प्लेइंगXI

अब केन विलियमसन ने दिया विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को बड़ा बयान, जानिए क्या कहा?

विलियमसन का मानना है कि विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में जगह बनाने की कवायद से भविष्य की टेस्ट श्रृंखलाएं अधिक प्रतिस्पर्धी हो जाएंगी। विलियमसन की टीम विश्व कप फाइनल में हारने के एक महीने बाद श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट चैंपियनशिप का पहला मैच खेलने के लिये उतरेगी।

अब केन विलियमसन ने दिया विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को बड़ा बयान, जानिए क्या कहा?

न्यूजीलैंड के इस दिग्गज कप्तान ने कहा, ''यह टेस्ट प्रारूप में स्वागतयोग्य कदम है और इससे हर टेस्ट मैच प्रासंगिक बन जाएगा।" उन्होंने कहा, ''जब भी आप किसी टीम से खेलते हो यह प्रतिस्पर्धी होता है लेकिन अब हर कोई दो साल में टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में खेलना चाहेगा और यह इसका वास्तव में रोमांचक पक्ष होगा।" 

अब केन विलियमसन ने दिया विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को बड़ा बयान, जानिए क्या कहा?

बता दें कि भारत 22 अगस्त से आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप का आगाज विंडीज के खिलाफ टेस्ट सीरीज खेलकर करने जा रहा है। इसे लेकर सारे क्रिकेट लवर्स में उत्सुकता है तो आइए जानते हैं कि टेस्ट चैम्पियनशिप के कायदे कानून के बारे में। विश्व टेस्ट चैंपियनशिप दो साल के चक्र में खेली जाएगी। यह एक अगस्त से शुरू होकर 31 मार्च 2021 तक चलेगी। दो शीर्ष दो टीमें फाइनल में 10 से 14 जून 2021 को फाइनल में भिड़ेंगी। इस चैम्पियनशिप में नौ देश हिस्सा लेंगे। ये टीमें हैं भारत, वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, इंग्लैंड, दक्षिण अफ्रीका, पाकिस्तान, श्रीलंका, न्यूजीलैंड और बांग्लादेश।

अब केन विलियमसन ने दिया विश्व टेस्ट चैंपियनशिप को बड़ा बयान, जानिए क्या कहा?

शीर्ष नौ रैंकिंग वाली टीमों को दो साल की अवधि में आपसी सहमति से चुनी गईं प्रतिद्वंदी टीमों के साथ छह द्विपक्षीय टेस्ट सीरीज खेलनी हैं। इनमें से तीन सीरीज घरेलू मैदान पर होंगी, जबकि तीन विपक्षी टीम की जमीन पर। टेस्ट मैच चाहे जितने भी हों, एक सीरीज में अंक 120 ही मिलेंगे। अगर दो टेस्ट मैच की सीरीज है तो एक टेस्ट के लिए 60 अंक निर्धारित होंगे। जीतने वाली टीम को पूरे 60 अंक दिए जाएंगे। 

प्लीज सब्सक्राइब यूट्यूब चैनल

 

टाई या बेनतीजा रहने पर दोनों टीमों के खाते में 30-30 अंक दिए जाएंगे। ड्रॉ होने की सूरत में 20-20 अंक दिए जाएंगे। इसी प्रकार अगर तीन टेस्ट मैच की सीरीज है तो इसके लिए हर टेस्ट के लिए 40-40 अंक निर्धारित होंगे और उसी अनुपात में जीत-हार, टाई या ड्रॉ पर अंक उस 40 अंकों में से ही बटेंगे। अंक हर टेस्ट के हिसाब से दिए जाएंगे, न कि टेस्ट सीरीज के आधार पर।

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

More From sports

Trending Now
Recommended