संजीवनी टुडे

कैफ ने लिया क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास, लिखा भावुक सन्देश...

संजीवनी टुडे 14-07-2018 08:21:11

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने शुक्रवार को 12 साल बाद सभी तरह के प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा कर दी। 37 वर्षीय कैफ ने 13 टेस्ट, 125 वनडे खेले थे। उन्हें लाडर्स पर 16 साल पहले 13 जुलाई 2002 को नेटवेस्ट ट्राफी फाइनल में 87 रन की मैच जिताने वाली पारी के लिए जाना जाता है। 13 जुलाई को ही कैफ ने यादगार पारी खेली व संन्यास भी लिया है।

कैफ ने कहा- 16 साल पहले 13 जुलाई 2002 को, लॉर्ड्स के मैदान पर नेटवेस्ट ट्रॉफी के फाइनल वाला दिन, मेरे लिए ऐसा लम्हा था। मुझे लगता है कि अलविदा कहने का यह सबसे अच्छा दिन होगा। ऐसे मौकों पर लोगों के लिए यादें होती हैं, मेरी लिए साफ और यादगार उपलब्धियां हैं।”

Mohammed Kaif congratulated the Pakistan Cricket team for the victory the people said antinational

मोहम्मद कैफ ने अपने ट्वीट में कहा, “जब मैने क्रिकेट खेलना शुरू किया था. तब मेरा ख्वाब था कि एक दिन टीम इंडिया के लिए खेलूं। मैं मैदान पर काफी खुश किस्मत रहा और मुझे अपनी जीवन के190 दिनों तक देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका मिला। आज एक खास दिन मैं प्रतिस्पर्धी क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले रहा हूं, सभी का शुक्रिया। 

अपने भावुक संदेश में कैफ ने कहा, “अब तक के मेरे सभी क्रिकेट साथियों के लिए, हरएक व्यक्ति जिसने मुझे शुभकामनाएं दी और बाकी सभी के लिए शुभकामनाएं।” कैफ ने कहा, “मैं फर्स्ट क्लास क्रिकेट के सभी प्रारूपों से संन्यास ले रहा हूं, 13 जुलाई को ऐसा करना मेरे लिए काफी मायने रखता है। हरएक प्रोफेश्नल जीवन में एक ऐसा लम्हा होता है जो बाकी सभी लम्हों से ज्यादा खास होता है।

This Indian player who made the world record of catches in the World Cup said cricket bye

कैफ ने बीसीसीआई के कार्यवाहक अध्यक्ष सीके खन्ना और कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी को ई-मेल भेजकर लिखा, 'मैं सभी तरह के प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास ले रहा हूं ।' वह विश्व कप 2003 में फाइनल खेलने वाली भारतीय टीम का भी हिस्सा थे। युवराज सिंह के साथ वह अंडर 19 क्रिकेट से चमके थे। 

जयपुर में प्लॉट मात्र 2.40 लाख में call: 09314166166

MUST WATCH:

उत्तर प्रदेश के लिए रणजी ट्रॉफी जीतने वाले कैफ ने आखिरी प्रथम श्रेणी मैच छत्तीसगढ के लिए खेला था। सौरव गांगुली की अगुआई में भारतीय टीम जब भारतीय क्रिकेट के इतिहास के सुनहरे पन्ने लिख रही थी तो युवराज के साथ कैफ उसका अभिन्न अंग थे । कैफ ने 13 टेस्ट में 32 की औसत से 2753 रन बनाए । वहीं 125 वनडे में उनका औसत 32 रहा । कैफ हिंदी क्रिकेट कमेंटेटर के रूप में कॅरिअर की दूसरी पारी शुरू कर चुके हैं। 

Rochak News Web

More From sports

Trending Now
Recommended