संजीवनी टुडे

IPL 2020/ चेन्नई को मिली एक और हार, मैच के बाद कप्तान धोनी का कुछ ऐसा रिएक्शन

संजीवनी टुडे 20-10-2020 08:24:52

धोनी ने बताया कि विकेट में तेज गेंदबाजों के लिए कुछ मदद थी, फिर भी रविंद्र जडेजा को क्यों लेकर आये।


डेस्क। आईपीएल 2020 के 37 वें मैच में राजस्थान रॉयल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 7 विकेट से हराकर प्लेऑफ में अपनी उम्मीदें बरकरार रखी हैं। राजस्थान ने चेन्नई के 125 रन के लक्ष्य को 3 विकेट खोकर 17 ओवर और तीन गेंद में 126 रन बनाकर हासिल कर लिया। मैच के बाद कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बताया कि अब आगे के मैचों में युवा क्रिकेटरों को मौका मिल सकता है और उन पर किसी तरह का दबाव भी नहीं होगा। 

धोनी ने बताया कि विकेट में तेज गेंदबाजों के लिए कुछ मदद थी, रविंद्र जडेजा को मैं इसलिए लेकर आया था क्योंकि मैं देखना चाह रहा था कि वह कितना रनों की रफ्तार को रोक पा रहे हैं, लेकिन पहली पारी जैसा ऐसा कुछ हुआ नहीं। इसके बाद ऑप्शन था कि हम तेज गेंदबाजों के साथ जाएं और फिर स्पिनर्स को तब लेकर आएं, जब गेंद पुरानी हो चुकी हो। 

IPL 2020  Dhonis loss to Chennai in the 200th match the team is in danger of being eliminated from the playoffs

धोनी ने कहा,  'मुझे लगता है कि दूसरी पारी में विकेट थोड़ा बेहतर हो गया था क्योंकि हमारे स्पिनरों को पहली पारी जितनी मदद नहीं मिली। हमेशा चीजें आपके पक्ष में नहीं जा सकती हैं। यही वजह है कि हम प्रोसेस में वापस जाने की बात करते हैं और देखेंगे कि प्रोसेस गलत है या फिर हम इसको सही से लागू नहीं कर पा रहे हैं।'

धोनी ने कहा, 'नतीजे हमेशा से प्रोसेस के बायप्रोडक्ट होते हैं। यह मदद करता है कि आप पॉजिटिव सोचें। हम लाखों लोगों के सामने खेले हैं, तो छुपाने जैसा कुछ है नहीं। फैक्ट यही है कि अगर आप प्रोसेस में व्यस्त रहते हैं तो रिजल्ट का प्रेशर ड्रेसिंग रूम तक नहीं आता है। हमने कुछ चीजें ट्राइ कीं, एक चीज है जो आप नहीं करना चाहते हैं, आप बहुत ज्यादा बदलाव नहीं करना चाहते हैं क्योंकि फिर क्या होता है कि तीन-चार-पांच मैचों के बाद आप किसी भी बात को लेकर निश्चिंत नहीं होते हो। आप लोगों को पूरे मौके देना चाहते हैं, अगर वह अच्छा नहीं कर पा रहे हैं, तब आप किसी और को मौका देंगे। इनसिक्योरिटी (अस्थिरता) ऐसी चीज है, जो आप ड्रेसिंग रूम से दूर रखना चाहते हैं।'

उन्होंने आगे कहा, 'यह सही बात है कि इस सीजन में हम कुछ खास नहीं कर सके। युवा क्रिकेटरों को भी कुछ मौके मिले, हो सकता है हमें उनमें वो स्पार्क नहीं दिखा, जो वह हमें दिखा सकते थे। इस रिजल्ट के बाद हम युवा क्रिकेटरों को मौका देंगे, उनके ऊपर कोई एक्स्ट्रा प्रेशर नहीं होगा, जिससे वह मैदान पर जाएं और खुलकर खेल सकें। जिससे हमें यह विकल्प मिले कि हम और विकल्प देख सकें।' सीएसके ने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ पहले बल्लेबाजी का फैसला लिया। 20 ओवर में सीएसके की टीम पांच विकेट पर 125 रन ही बना सकी। जवाब में राजस्थान रॉयल्स ने 17.3 ओवर में तीन विकेट गंवाकर 126 रन बनाकर मैच अपने नाम कर लिया।

यह खबर भी पढ़े: IPL 2020/ धोनी की टीम को राजस्थान रॉयल्स से मिली एक और करारी हार, जानिए कौन जीत का हीरो

यह खबर भी पढ़े: 19 अक्तूबर, आज का पवित्र लेख

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From sports

Trending Now
Recommended