संजीवनी टुडे

धोनी, विराट और रोहित को लेकर गौतम गंभीर ने दिया बड़ा बयान, कह डाली ऐसी बात

संजीवनी टुडे 20-09-2019 11:38:26

गंभीर ने बताया किसी के कप्तानी की असली परीक्षा तब होती है जब आईपीएल में किसी फ्रेंचाइजी का नेतृत्व करते हैं।


डेस्क। क्रिकेटर से राजनेता बने गौतम गंभीर ने एक बार फिर से विराट कोहली  की कप्तानी क्षमता पर सवाल उठाए हैं। गंभीर ने कहा कि भारतीय टीम के कप्तान के तौर पर कोहली की सफलता का श्रेय इस बात को जाता है कि उनके पास महेंद्र सिंह धोनी और रोहित शर्मा जैसे खिलाड़ी मौजूद हैं। गंभीर ने साथ ही ये भी कहा कि किसी के कप्तानी की असली परीक्षा तब होती है जब आईपीएल में किसी फ्रेंचाइजी का नेतृत्व करते हैं। 

यह खबर भी पढ़े: धोनी के संन्यास को लेकर अब सुनील गावस्कर ने दिया बड़ा बयान, कह डाली ऐसी बात

गुरुवार को एक यूनिवर्सिटी के छात्रों से चर्चा के दौरान गंभीर ने पत्रकारों से कहा, 'विराट को अभी भी काफी आगे तक जाना है। पिछले विश्व कप में कोहली काफी अच्छे रहे, लेकिन अभी भी उन्हें काफी आगे जाना है। इंटरनेशनल क्रिकेट में वो अच्छी कप्तानी करते हैं, क्योंकि उनके पास रोहित और धोनी हैं। कप्तानी की असली परीक्षा तब होती है जब आप किसी फ्रेंचाइजी टीम की कमान संभाल रहे होते हैं। जब आपके पास सपोर्ट के लिए बड़े खिलाड़ी नहीं होते हैं। मैं हमेशा ईमानदार रहा हूं जब भी इस बारे में बात की है।'

उन्होंने आगे कहा, 'आप देखिए कि रोहित शर्मा ने मुंबई इंडियंस के लिए क्या हासिल किया है और महेंद्र सिंह धोनी ने चेन्नई सुपर किंग्स के लिए क्या हासिल किया है। अगर आप इसकी तुलना रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर के साथ करेंगे तो आप खुद रिजल्ट देख सकेंगे।' 

यह खबर भी पढ़े: बिजली कटौती से परेशान हैं साक्षी धोनी, ट्वीट कर उठाये सवाल

साथ ही गंभीर ने टेस्ट क्रिकेट में रोहित शर्मा से पारी का आगाज कराने की वकालत भी की। उन्होंने कहा कि रोहित इतने अच्छे खिलाड़ी हैं और वो किसी भी फॉरमैट में बेंच पर बैठना डिजर्व नहीं करते हैं।

गंभीर ने कहा, 'मुझे लगता है कि केएल राहुल को काफी ज्यादा मौके दिए गए हैं। अब रोहित शर्मा का समय है कि उन्हें टेस्ट क्रिकेट में भी पारी का आगाज करना चाहिए। अगर आप उन्हें टीम में चुनते हैं तो उन्हें प्लेइंग इलेवन का हिस्सा होना ही चाहिए। इसका कोई मतलब नहीं कि उन्हें 15-16 सदस्यीय टीम में चुना जाए और फिर बेंच पर बैठाया जाए।'

गंभीर ने बताया कि वो 2007 में जब 50 ओवर विश्व कप के लिए नहीं चुने गए थे, तो उन्होंने क्रिकेट छोड़ने का मन बना लिया था। 2007 विश्व कप में टीम इंडिया का प्रदर्शन काफी खराब रहा था और टीम ग्रुप स्टेज से ही बाहर हो गई थी। इसी साल भारत ने आईसीसी वर्ल्ड ट्वंटी20 का खिताब अपने नाम किया था। धोनी उस टूर्नामेंट में लीडिंग रन स्कोरर रहे थे। 

गोवर्मेन्ट एप्रूव्ड प्लाट व फार्महाउस मात्र रु. 2600/- वर्गगज, टोंक रोड (NH-12) जयपुर में 9314166166

 

More From sports

Trending Now
Recommended