संजीवनी टुडे

चीन की कंपनी Vivo को तगड़ा झटका, BCCI ने खत्म किया कॉन्ट्रैक्ट, अब इस साल आईपीएल का टाइटल स्पॉन्सर नहीं होगा वीवो

संजीवनी टुडे 08-08-2020 09:26:27

एंटी चाइना माहौल को ध्यान में रखते हुए बीसीसीआई और चीनी कंपनी ने साल 2020 के लिए अपना करार सस्पेंड कर दिया है।


नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने चीन की कंपनी Vivo को एक और तगड़ा झटका दिया है। भारत और चीन के बीच चल रहे मौजूदा विवाद का खामियाजा चाइनीज स्मार्टफोन मेकर कंपनी वीवो को भुगतना पड़ रहा है। एंटी चाइना माहौल को ध्यान में रखते हुए बीसीसीआई और चीनी कंपनी ने साल 2020 के लिए अपना करार सस्पेंड कर दिया है।  

ऐसे में लद्दाख सीमा पर भारत और चीन के बीच तनाव का असर आईपीएल 2020 (IPL 2020) पर भी पड़ा है। मतलब आईपीएल 2020 के लिए वीवो आईपीएल की मुख्य प्रायोजक नहीं होगी। खबरों के मुताबिक बीसीसीआई और चीनी कंपनी वीवो ने आपसी सहमति से इस करार को एक साल के लिए सस्पेंड किया है। बता दें बीसीसीआई को वीवो से सालाना 440 करोड़ रुपये मिलते थे, जिसके साथ उसका करार 2022 में खत्म होने वाला था। 

ipl

गौरतलब है कि IPL का आयोजन इस साल संयुक्त अरब अमीरात में 19 सितंबर से 10 नवंबर तक होना है। बीसीसीआई ने मीडिया को एक मेल जारी करते हुए इस बात का आधिकारिक ऐलान कर दिया है कि इस साल के आईपीएल के लिए चीनी मोबाइल वीवो टाइटल स्पॉन्सर नहीं होगी। 

वहीं, बीसीसीआई ने अपने मेल में कहा है, "भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड और vivo मोबाइल इंडिया प्राइवेट लिमिटेड ने मिलकर 2020 में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के लिए अपनी साझेदारी को स्थगित करने का निर्णय लिया है।"

ipl

बता दें कि भारत और चीन के सैनिकों के बीच पूर्वी लद्दाख में हुई हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों में तनाव की स्थिति पैदा हो गई है। इस बीच भारतीय लोगों ने चीन के हर प्रकार के सामानों का बहिष्कार शुरू कर दिया है। ऐसे में बीसीसीआइ ने जब आइपीएल के 13वें सीजन का ऐलान किया था और बताया था कि वीवो ही इस साल आइपीएल की मुख्य प्रायोजक होगी तो क्रिकेट फैंस नाराज हो गए थे, क्योंकि इससे पहले बोर्ड के सचिव जय शाह ने कहा था कि वे चीनी कंपनियों के साथ हुए करार पर विचार करेंगे, लेकिन ऐसा नहीं हुआ था। 

ऐसे में भारतीय फैंस ने आईपीएल के टाइटल स्पॉन्सर (वीवो) के ऐलान होने के दूसरे ही दिन सोशल मीडिया पर बायकॉट आईपीएल  के नाम से ट्रेंड शुरू कर दिया था, जिससे बीसीसीआई को झुकना पड़ा और कम से कम इस साल के लिए वीवो के साथ अपनी डील को सस्पेंड कर दिया है। हालांकि, बीसीसीआई ने स्पष्ट तौर पर इस बात की पुष्टि नहीं की है कि क्यों वीवो और बीसीसीआई ने इस डील को एक साल के लिए स्थगित किया है।  

यह खबर भी पढ़े: टी20 वर्ल्ड कप 2021 और 2022 को लेकर आईसीसी ने लिया बड़ा फैसला, अब भारत में खेला जायेगा टी20 विश्व कप

यह खबर भी पढ़े: अस्थाई नियुक्ति के फर्जी आदेश मामले में मुख्य अभियंता ने दिए एफआईआर दर्ज कराने के निर्देश

 

ऐसी ही ताजा खबरों व अपडेट के लिए डाउनलोड करे संजीवनी टुडे एप

More From sports

Trending Now
Recommended