संजीवनी टुडे

2008 विश्वकप में जीत दिलाने वाला कोहली का साथी बेच रहा है छोले भटूरे

संजीवनी टुडे 13-11-2017 21:16:17

Virat Kohlis companion is selling a win in the 2008 World Cup

नई दिल्ली। कई खिलाड़ियों के गुमनामी के अंधेरे में खोने की खबरें हमें आए दिन मिलती रहती हैं। हमें क्रिकेट को छोड़कर दूसरे खेलों औैर खिलाड़ियों के बारे में मिलती हैं, लेकिन ऐसा बहुत कम होता है जब क्रिकेट खिलाड़ी के बारे में ये पता चले कि गुमनामी के अंधेरे ने उसके जीवन में इतना अंधेरा भर दिया कि अब उसे अपना जीवन यापन करने के लिए छोले भटूरे बेचने पड़ रहे हैं। 

यह भी पढ़े: वीडियो: दरवाजा तोड़ राम रहीम के BEDROOM में घुसी पुलिस, नजारा देख रह गई हैरान

  


जी हां इस क्रिकेटर के साथ कुछ ऐसा ही हुआ है और ये किसी साधारण क्रिकेट खेलने वाले खिलाड़ी के साथ नहीं हुआ, बल्कि 2008 विश्वकप जीत में अहम भूमिका भी निभाई थी। विश्व कप की जीत ने पैरी को हीरो बनाया था, उस समय टीम के कप्तान विराट कोहली थे जिनका खास साथी था पैरी, लेकिन खराब फार्म की वजह से वह धीरे-धीरे चयनकर्ताओं की आंखों से ओझल होते गए, अंडर-19 का विश्व कप वैसे भी बहुत लोग नहीं देखते हैं।


इस सेक्‍शन में बेहतर प्रदर्शन करने के बाद आगे सीनियर वर्ग में और बेहतर क्रिकेट खेलनी होती है, तब कहीं जाकर विराट कोहली जैसी सफलता मिलती है। पैरी इस मामले में विराट से कोसो पीछे रह गया है। उसी अंडर-19 टीम के कई खिलाड़ी आज टीम इंडिया में जगह बना चुके हैं, इनमें कप्तान विराट कोहली के अलावा रविंद्र जडेजा, मनीष पांडे शामिल हैं। लेकिन पेरी गोयल आज अपने परिवार का गुजर बसर करने के लिए छोले भटूरे बेच रहे हैं।

यह भी पढ़े: गोरखपुर में अलगटपुर बांध टूटने से 4 जिलों में घुसा पानी देखिए VIDEO

अंडर-19 वर्ल्डकप जीतने के बाद पेरी ने पंजाब के लिए घरेलू क्रिकेट भी खेला, हालांकि उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा। 2010 में उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया, अब पेरी गोयल लुधियाना नगर निगम के बाहर फास्ट फूड कॉर्नर चलाते हैं। पेरी की कहानी पंजाब में सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रही है। 
 

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

More From sports

loading...
Trending Now
Recommended