संजीवनी टुडे

दादा का ट्रैन सफर रहा कड़वाहट भरा, 15 साल बाद किया था सफर

संजीवनी टुडे 17-07-2017 10:36:20

Dada train journey filled the bitterness after 15 years

कोलकाता। बंगाल टाइगर ने शनिवार को कोलकाता के पास अपनी एक कांस्य की मूर्ति का अनावरण किया। पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने कोलकाता से मालदा तक ट्रैन से सफर किया। गौरतलब है की, दादा ने 15 साल बाद ट्रेन में सफर किया। लेकिन ये सफर गांगुली के लिए कड़वा अनुभव नहीं रहा। गांगुली जिस ट्रैन में बैठे, उसमें उनकी एक व्यक्ति से तीखी बहस हो गई।

सूत्रों के अनुसार, गांगुली को कोलकाता के पास बालुरघाट में मूर्ति का अनावरण करना था। इस दौरान उन्हें पदातिक एक्सप्रेस से वहां जाना था। उनकी ट्रैन में एसी फर्स्ट क्लास की सीट थी। जब गांगुली अपनी सीट पर पहुंचे तो पहले से ही एक व्यक्ति वहां पर बैठा था। और गांगुली के साथ बंगाल क्रिकेट संघ के संयुक्त सचिव अभिषेक डालमिया भी थे।

 

गांगुली ने जब उस व्यक्ति से सीट से हटने को कहा तो वह व्यक्ति नहीं उठा और बहस करने लगा और दिग्गज क्रिकेटर की शख्सियत की परवाह न करते हुए बवाल खड़ा कर दिया। जिसके बाद सौरव ट्रेन से ही उतर गए, वहां पर भीड़ भी जमा हो गई। लेकिन बाद में सौरव को एसी-2 की एक सीट दी गई।

सौरव गांगुली ने इससे पहले 2001 में ट्रेन से सफर किया था। ध्यान रहे सौरव गांगुली अभी बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन के अध्यक्ष हैं, और बीसीसीआई की क्रिकेट सलाहकार समिति के सदस्य भी हैं।

NOTE: संजीवनी टुडे Youtube चैनल सब्सक्राइब करने के लिए क्लिक करे !

जयपुर में प्लॉट ले मात्र 2.20 लाख में: 09314188188

More From sports

loading...
Trending Now
Recommended